Hindi Books, Novels and Stories Free Download PDF

सपनो के महल
by Umang Chauhan

गुजरात के अहमदाबाद में सृष्टि नाम की एक लड़की रहती है। उसका इस दुनिया में कोई नहीं है। सृष्टि बचपन से ही बहुत होशियार और समझदार थी। सृष्टि शुरू ...

मुखौटा ही मुखौटा
by Henna pathan

" मुखौटे दिख रहे हैं आजकल मुखौटे बिक रहे हैं आजकल सच दबाया जा रहा है झूठ बिक रहे हैं आजकल यूँ तो सब ज्ञानी हैं यहाँ परिस्थितियों को देख ...

रिस्की लव
by Ashish Kumar Trivedi

हॉस्पिटल के आईसीयू में पूरी तरह शांति छाई हुई थी। एक नर्स मरीज़ के बेड के पास बैठी थी। कुछ देर पहले ही मरीज़ को ऑपरेशन थिएटर से आईसीयू ...

धारा
by Jyoti Prajapati

धारा के संघर्ष की कहानी....क्या कभी मिल पायेगा उसे उसका पहला प्यार??

तंत्र रहस्य
by Rahul Haldhar

1)सफर की शुरुआत ...." राघव बेटा जाकर मंदिर का दरवाजा बंद करदे ,सुबह के पूजा होने के बाद अभी भी खुला हुआ है । " मैं बाहर कुर्सी पर ...

रात
by Keval Makvana

नमस्कार...! आपका लेखक मित्र केवल मकवाणा आ गया है एक नवलकथा लेकर। आप सबने मेरी पिछली सभी कहानीओ को जितना प्यार दिया है, वैसा ही प्यार आप इस कहानी ...

प्रेत-लोक
by Satish Thakur

ये समूचा विश्व सिर्फ एक भावना के चलते गतिमान है वो है विश्वास, कहा जाता रहा है कि " मानो तो मैं गंगा माँ हूँ, न मानो तो बहता ...

हाँ, मैं भागी हुई स्त्री हूँ
by Dr Ranjana Jaiswal

भारतीय समाज में मान्यता है कि स्त्री की डोली पिता के घर से उठती है तो फिर पति के घर से उसकी अर्थी ही निकलनी चाहिए।ससुराल में चाहें जैसी ...

संयोग-मुराद मन की
by किशनलाल शर्मा

या हू------- पहला लिफाफा खोलते ही उसमे से पत्र के साथ निकले फोटो को देखकर अनुराग खुशी से उछल पड़ा। "क्या हुआ बेटा?" अनुराग की आवाज सुनकर उसकी मां ...

टापुओं पर पिकनिक
by Prabodh Kumar Govil

आर्यन तेरह साल का हो गया। कल उसका बर्थडे था। इस जन्मदिन को लेकर वो न जाने कब से इंतजार कर रहा था। वो बेहद एक्साइटेड था। होता भी ...

कन्‍हर पद माल -शास्त्रीय रागों पर आधारित पद
by ramgopal bhavuk

हमारे राम चार वर्ष की अवस्‍था से चार वर्ष पिछोर में रहे वहीं विद्या का आरम्‍भ हुआ। दो बार श्री कालिन्‍द्री पर यज्ञ में जनता जनार्दन की सेवा का ...

साहब और नीशू
by PARIKH MAULIKH

एक वक़्त की बात है, वहा एक बड़े जमीनदार रहते थे। उनके परिवार में उनकी पत्नि सरोजिनी और एक लड़की थी निशा। वो थी तो सत्रह साल की पर ...

जीवन ऊट पटाँगा
by Neelam Kulshreshtha

ज़िंदगी होती है बेतरतीब, बड़ी ऊट पटाँग, थोड़ी सी बेढब, थोड़ी सी खट्टी मीठी, हंसी और आँसुओं की पोटली, अकल्पनीय बातें आपके रास्ते में फेंकती आपको बौखलाती हुई, ठगती ...

विष कन्या
by Bhumika

महाराज अगर आप ऐसे खाना पीना छोड़कर विशादमे ही डूबे रहेंगे तो कैसे चलेगा। में आपकी हालत समज रहा हूं पर आपका सर्व प्रथम दाइत्व आपके राज्य के प्रति ...

मिड डे मील
by Swatigrover

हरिहर स्कूल की दीवार पर लिखा पढ़ रहा है ----'शिक्षा पर सबका अधिकार हैं' उसने यह बार-बार ...

एहसास प्यार का खूबसूरत सा
by ARUANDHATEE GARG मीठी

अरनव ( खुशी को संभालते हुए ) - आराम से बैठो आप यहां पर ....., और खुद का खयाल रखा करो । खुशी - मुझे क्या जरूरत खुद ...

अनोखी दुल्हन
by Veena

कौन होगा जिसने अपनी पूरी जिंदगी में भूत पिशाच के बारे मे सुना ही नहीं होगा??? बोहोत कम लोग! नहीं उंगलीयो पर गिने इतने भी मुश्किल से मिलेंगे। पर ...

त्रिधा
by Ayushi Singh

मेरी प्यारी त्रिधा,कैसी हो ? उम्मीद है पहले से बेहतर होगी। समझ नहीं आ रहा इतने सालों बाद क्या बोलूं, क्या लिखूं, क्या पूछूं...... तुम्हारा फोन नंबर, ईमेल, सोशल ...

नाट्यपुरुष - राजेन्द्र लहरिया
by राज बोहरे

बूढ़ा क्यू में था! क्यू 'महामहिमावान’ के सार्वजनिक अभिनंदन करने के लिए लगी हुई थी, जिसमें स्त्री-पुरुष नौजवानों-जवानों से लेकर बूढ़ों तक की मौजूदगी थी। पर उन सबके बीच, क्यू ...

इन्तजार एक हद तक (महामारी)
by RACHNA ROY

ये कहानी सत्य घटनाओं पर आधारित है आशा करतीं हुं।आप सभी को अच्छा लगेगा। हकीम पुर गांव अब पुरी तरह से कोलेरा महामारी की चपेट में आ गया था ...

वो यादगार डेट
by Sweety Sharma

आखिरकार इतने दिनों के बाद , हमारा मिलने का प्लान बन ही गया । खुशी का मानो कोई ठिकाना ही ना था । कब ये रात गुजरेगी , कब दिन ...

उजाले की ओर
by Pranava Bharti

मित्रों ! प्रणाम  जीवन की गति बहुत अदभुत है | कोई नहीं जानता कब? कहाँ?क्यों? हमारा जीवन अचानक ही बदल जाता है ,कुछ खो जाता है ,कुछ तिरोहित हो ...

एक वरदान - संभोग
by Satish Thakur

संभोग मानव जीवन की एक अमिट कड़ी है। दुनियाँ में जहाँ ऐसा बहुत कुछ है जो एक व्यक्ति को दूसरे से अलग करता है, कहीं जाति के नाम पर ...

करवट बदलता भारत
by बेदराम प्रजापति "मनमस्त"

’’करवट बदलता भारत’’ 1 काव्‍य संकलन-   वेदराम प्रजापति       ‘’मनमस्‍त’’   समर्पण— श्री सिद्ध गुरूदेव महाराज,  जिनके आशीर्वाद से ही कमजोर करों को ताकत मिली, उन्‍हीं के श्री चरणों में शत्-शत ...

मेरी नजर से देखो
by Rajat Singhal

मै एक नवीन लेखक अपनी इन लघु कहानियों से एक समाज की भिन्न - २ समस्याओ से ग्रस्त छवि को दिखाने का प्रयत्न करूँगा। मै हर समस्या के मध्य ...

चलो, कहीं सैर हो जाए...
by राज कुमार कांदु

रोज एक ही माहौल में रहते हुए कभी-कभी जिंदगी बोझिल सी होने लगती है । ऐसे में अंतर्मन पुकार उठता है……चलो कहीं सैर हो जाये घूमने फिरने के कई फायदे ...

ताश का आशियाना
by R.J. Artan

सिद्धार्थ शुक्ला 26 साल का नौजवान सरल भाषा में बताया जाए तो बेकार नौजवान। इंजीनियरिंग के बाद एमबीए करके बिजनेस खोलना चाहते हैं जनाब! बिजनेस के तो इतने आइडिया इनके पास ...

नियति ...can’t change by anybody
by PRATIK PATHAK

   शीर्षक: नियति ...can’t change by anybody लेखक: प्रतीक पाठक कहानी के किरदार :1) डॉ.अमित नायक – प्रोफेसर  2) मालिनी - डॉ.अमित नायक की सहायक 3) रंगनाथ उर्फ रंगा - डॉ.अमित ...

दैहिक चाहत
by Ramnarayan Sungariya

उपन्‍यास भाग---१ - आर. एन. सुनगरया,  हॉटल की सीडि़यॉं उतरती शीला, फुरतीले अंदाज में लगभग दौड़ती हुई, मैन गेट पहुँची ही थी कि सामने से गुजरती टैक्‍सी के ड्राइवर ...

स्टेट बंक ऑफ़ इंडिया socialem (the socialization)
by Nirav Vanshavalya

यूरो डॉलर का 300 नोट वाला भारी भरकम बंडल कॉन्फ्रेंस टेबल पर जाकर गिरिता है. इसके दूसरे ही क्षण 25महान अर्थशास्त्री कॉन्फ्रेंस में बैठे हुए दिखाई ...

लव का अलौकिक सप्ताह
by Kirtipalsinh Gohil

Day 1: ROSE DAY "भैया, सुनो एक बात बतानी थी आपको।" लवकेश स्कूल जाने के लिए घर से निकला ही था की सामने पड़ोस में रहते शर्मा परिवार की ...

अनफॉरट्यूनेटली इन लव
by Veena

ये एक सीरिज की कहानी है जिसे में आज सबको सुनानाचाहूंगी।जानना चाहते हैं कि पहली नजर का प्यार क्या होता है?  ये इस क्षण में था कि वह उस व्यक्ति ...

मौत का खेल
by Kumar Rahman

जासूसी उपन्यास मौत का खेल कुमार रहमान कॉपी राइट एक्ट के तहत जासूसी उपन्यास ‘मौत का खेल’ के सभी सार्वाधिकार लेखक के पास सुरक्षित हैं। किसी भी तरह के ...

दूसरी औरत... सीजन - 2
by निशा शर्मा

"हैलो! बेटा कैसा है? कितने दिन हुए तूने तो एक फोन भी नहीं किया और कई महीनों से तू घर भी नहीं आया! कोई परेशानी की बात तो नहीं ...

सेकंड लव
by Mehul Pasaya

आयुष एक नॉर्मल लड़का था उश्की जिन्दगी ना जेसे अकेले पन से भरी पडी हुए थी और वोह आज कल परेशान बहुत रेहता था। आयुष फैमिली के साथ रेहता ...

मुझे बचाओ !!
by Brijmohan sharma

( एक खूबसूरत शर्मीले अध्यापक को उसके स्टाफ व छात्राओं द्वारा परेशान किए जाने की मनोरंजक दास्तान ) १ उसके अनुसार सारे दुखों की जड़ विवाह ही है । वह सोचता ...

वो अनकही बातें
by RACHNA ROY

सड़क के बीच में तेज बारिश में वो खड़ी हो कर ना जानें किसका इंतज़ार कर रही थी। बहुत सारे सवाल उठ रहे थे शालू के मन में। मुझे इस ...

पावन ग्रंथ - भगवद्गीता की शिक्षा
by Asha Saraswat

       अनुभव को जब भी समय मिलता वह लाइब्रेरी से अपनी मनपसंद पुस्तकें लाकर पढ़ लेता । छुट्टियों में वह घर में रखी हुई पुस्तकें निकाल कर ...

अधूरा पहला प्यार
by किशनलाल शर्मा

मनोहर दुकान से घर लौटा तो उसकी नज़र फर्श पर पड़े लिफाफे पर पड़ी।लिफाफा देखकर वह चोंका।आज अचानक किसका पत्र आ गया।शारदा का तो हो नही सकता।विदेश से आने ...

इश्क़ है तुमसे ही
by Jaimini Brahmbhatt

फोन कि रिंगटोन बजती है. ट्रिन..... ट्रिन.... मोबाइल उठते ही सामने से आवाज आने लगती हैं। तुम कहाँ हो? अब तक कहा रहे गये हो? वक्त पर आना भी जिम््मेदारी होती ...

टेढी पगडंडियाँ
by Sneh Goswami

टेढी पगडंडियाँ    “ चाची ! ओ चाची ! तुझे भापा बुला रहा है खेत में ट्यूवैल पे । जल्दी जा “ - नाइयों का बिल्लू दहलीज पर खङा ...

नज़र - एक रहस्यमई रात
by Aarti Garval

"जरा सी देर हो जाएगी तो क्या होगा?   घड़ी घड़ी ना उठाओ नजर घड़ी की तरफ।"   पढ़ाई से जब भी वक्त मिलता मुग्धा यूं ही किताबों के ...

मैं तो ओढ चुनरिया
by Sneh Goswami

कोई भूखा मंदिर इस उम्मीद में जाय कि उसे एक दो लड्डू या बूंदी मिल जाय तो रात आराम से निकल जाएगी और वहाँ से मिले मक्खन मलाई का ...

में और मेरे अहसास
by Darshita Babubhai Shah

में और मेरे अहसास भाग-१ *** ईश्क में तेरे जोगन बन गई lआज राधा जोगन बन गई ll *** गरघर कीदीवार केकर्णहोतेकोई घरखड़ाना होता ll *** काटे नहीं कटता ...

राधारमण वैद्य-आधुनिक भारतीय शिक्षा की चुनौतियाँ
by राजनारायण बोहरे

जहाँ तक शिक्षा में आमूल परिवर्तन की बात है, वह बहुत कठिन कार्य है, क्योंकि इसमें पर्याप्त श्रम, समय, धन और अन्वेषणों की आवश्यकता है। पहले शिक्षक बदले, तब ...

रेज़्यूमे वाली शादी
by Daanu

यह कहानी है, दो लोगों की जो शुरू वहाँ से होती है, जहाँ पर बड़ी-बड़ी प्रेम कहानियां खत्म हो जाती है, उस दिन उस बड़े से घरेलू रेस्टोरेंट में ...

द डार्क तंत्र
by Rahul Haldhar

पहली कहानी .......   योनिनिशा - 1 " लेकर आई हो ? " " हाँ  " लड़की ने किसी तरह अपना सिर हिला कर जवाब दिया । लड़की की उम्र ...

नैनं छिन्दति शस्त्राणि
by Pranava Bharti

इस बात को अब तो लगभग 24 वर्ष हो गए हैं जब मैं ‘इसरो’ की सरकारी योजना के अंतर्गत ‘अब झाबुआ जाग उठा’ सीरियल का लेखन कर रही थी ...

डॉ अब्दुल कलाम की जीवनी
by Mrityunjaya Dikshit

15 अक्टूबर 1931 के तमिलनाडु के रामेश्वरम में जन्मे भारतरत्न राष्ट्रपति डॉ कलाम का पूरा नाम अबुल ज़ाकिर जैनुल आबेदीन अब्दुल कलाम था अब्दुल कलाम के जीवन पर ...

Chandragupt
by Jayshankar Prasad

चन्द्रगुप्त (सन् 1931 में रचित) हिन्दी के प्रसिद्ध नाटककार जयशंकर प्रसाद का प्रमुख नाटक है। इसमें विदेशियों से भारत का संघर्ष और उस संघर्ष में भारत की विजय की ...

मंटो की कहानियां
by Saadat Hasan Manto

सआदत हसन मंटो का जन्म- 11 मई, 1912 को समराला, पंजाब में हुआ था। आप कहानीकार और लेखक थे। मंटो ने फ़िल्म और रेडियो पटकथा लेखन व पत्रकारिता भी ...

चाणक्य
by Vinay kuma singh

इतिहास के पन्नो से… ( महान व्यक्तित्व ) भारतीय राजनीति और अर्थशास्त्र के पहले विचारक - चाणक्य !

छत्रपति शिवाजी
by Mrityunjaya Dikshit

छत्रपति शिवाजी का राज्याभिषेक और उनका कुशल नेतृत्व मृत्युंजय दीक्षित महाराष्ट्र केे ही नहीं अपितु पूरे भारत के महानायक वीर छत्रपति शिवाजी महाराज। एक अत्यंत महान कुशल योद्धा और ...

Steve Jobs
by Kamini Gupta

Inspiration we get from Steve Jobs life

चरित्रहीन
by Hanif Madaar

औरत के इंसान होने के हक़ की बात करना भी उसके चरित्रहीन होने का प्रमाण घोषित हो जाता हो उस समाज में औरत की अस्मिता से जुड़े सवाल शायद ...

दीलीप कुमार
by Khushi Saifi

Filmy Duniya Ke famous actor Dilip Kumar Sahab Ki Zindagi Ke Kuch Ansune Pehlu.