Relationships were hollow by किशनलाल शर्मा in Hindi Short Stories PDF

खोखले होते रिश्ते

by किशनलाल शर्मा Matrubharti Verified in Hindi Short Stories

खोखले होते रिश्ते व अन्य लघुकथायें1--खोखले होते रिश्ते"काजल कह रही थी।शुक्रवार को चली जा।एक दिन और मिल जाएगा।"मैं एक साहित्यिक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए रुद्रपुर जा रहा था।बस में मेरे पास वाली सीट पर एक युवती बैठी ...Read More