Pyar bhi inkaar bhi - 1 by किशनलाल शर्मा in Hindi Adventure Stories PDF

प्यार भी इंकार भी - 1

by किशनलाल शर्मा Matrubharti Verified in Hindi Adventure Stories

सूरज दूर क्षितिज में कब का ढल चुका था।शाम अपनी अंतिम अवस्था मे थी।धरती से उतर रही अंधेरे की परतों ने धरती को अपने आगोश में समेटना शुरू कर दिया था।आसमान मे मखमली बादल छितरे पड़े थे।लेकिन बरसात का ...Read More