मैं भी फौजी (देश प्रेम की अनोखी दास्तां) - 3

by Pooja Singh Matrubharti Verified in Hindi Motivational Stories

रुस्तम सेठ की बात सुनकर गुस्सा तो बहुत आ रही थी पर बेबस अपने गांव से दूर उस विरान से कारखाने में कैद हो चुका था ...कितने साल हो गये थे बाहर की दुनिया न देखे मन ...Read More