बाल कथाएं - 3 - जितना है उसमें संतुष्ट रहो।

by Akshika Aggarwal Matrubharti Verified in Hindi Adventure Stories

एक समय की बात है। लखनऊ शहर में एक बहोत ही अमीरआदमी अमित मिश्रा रहता था। वो बहोत अमीर था। उसका लाखो करोड़ो रूपये का कारोबार था। उसके पास नोकर चाकर, गाड़ी, बंगला घर बार बीवी बच्चे सब थे। ...Read More