Devotees' hope by Amanat Malik in Hindi Poems PDF

भक्तो की आस

by Amanat Malik in Hindi Poems

ॐ नमः शिवाये। ॐ नमः शिवाये।। ॐ नमः शिवाये। ॐ नमः शिवाये।। ॐ नमः शिवाये। ॐ नमः शिवाये।। ॐ नमः शिवाये। ॐ नमः शिवाये।। अब पूरी कर दे आस रे। भोले बाबा कर दे बिनाश रे।। तू अघोड़ी - ...Read More