मनुष्य के कर्म किस जन्म तक चुकाना पड़ता है।

by Akash Gupta Matrubharti Verified in Hindi Short Stories

गाली देकर कर्म काट रही है एक राजा बड़ा धर्मात्मा, न्यायकारी और परमेश्वर का भक्त था। उसने ठाकुरजी का मंदिर बनवाया और एक ब्राह्मण को उसका पुजारी नियुक्त किया। वह ब्राह्मण बड़ा सदाचारी, धर्मात्मा और संतोषी था। वह ...Read More