Tumne kabhi pyar kiya tha - 18 by महेश रौतेला in Hindi Love Stories PDF

तुमने कभी प्यार किया था? - 18

by महेश रौतेला Matrubharti Verified in Hindi Love Stories

तुमने कभी प्यार किया था?-१८नैनीताल ठंडी सड़क पर चलना अच्छा लगता है। मन करता है बस,आवाजें सुनायीं दें, मधुर ध्वनियां आती रहें,धरा सहिष्णु बनी रहे,मिठास सतत बढ़ती रहे। यह वही सड़क है जो प्यार और संघर्ष में साथ रही। ...Read More