Hire ka Hira by Anami Sharan Babal in Hindi Short Stories PDF

Hire ka Hira

by Anami Sharan Babal in Hindi Short Stories

आज सवेरे ही से गुलाबदेई काम में लगी हुई है। उसने अपने मिट्टी के घर के आँगन को गोबर से लीपा है, उस पर पीसे हुए चावल से मंडन माँडे हैं। घर की देहली पर उसी चावल के आटे ...Read More