Motivational Stories Books in Hindi language read and download PDF for free

    सच्चाई - 2
    by Asmita Madhesiya

    एक स्त्री का जीवन  कई हिस्सो में  बट जाता है विवाह के बाद कुछ ऐसा ही सुरेखा के साथ भी हुआ था , वह बुआ के घर जाना तो ...

    लक्ष्य एक रास्ते अनेक
    by Rajesh Maheshwari

    लक्ष्य एक रास्ते अनेक   एक गांव में हरिसिंह और रामसिंह नाम के दो किसान रहते थे। वहाँ स्थित एक मंदिर में एक संत जी भी निवास करते थे। ...

    वोरेन बफेट......बचपन
    by VIJAY THAKKAR

    वोरेन बफेट......बचपन ईश्वर इस धरा पर एक अच्छा इन्सान पैदा करने में बहुत देर लगाता है और अभी तो वैसे भी कलियुग विद्यमान है, तो ऐसी संभावनाएं कमोबेश कम ...

    अनुभूति
    by Rajesh Maheshwari

    अनुभूति   जबलपुर शहर के समीप पनेहरा गांव में दो मालगुजार हिम्मत सिंह और अवतार रहते थे। उन दोनो का स्वभाव बिल्कुल विपरीत था। हिम्मत सिंह सीधा सादा, मिलनसार ...

    कन्या पूजन (कहानी)
    by टीना सुमन

      'कन्या पूजन ' (कहानी) हर साल शांति देवी नवमी की पूजा बड़ी धूमधाम से करती है |शांति देवी के चार बेटे हैं और चारों विवाहित है | पति ...

    उजाले की ओर - 6
    by Pranava Bharti

    उजाले की ओर--6 ----------------- प्रिय एवं स्नेही मित्रों सस्नेह नमस्कार      मनुष्य के स्वभाव में अन्य अनेक शक्तियों के साथ ही एक भरोसा करने की शक्ति भी निहित है ...

    ख्वाब
    by Poonam Singh

     ख्वाब--------"मिसेज मेहरा ! आपने देखा.. सुमित्रा ने क्या किया ?"" हाँ मिसेज शर्मा.. !  मैं भी तो यही सोच रही थी कि आखिर उन्हें ऐसा करने की जरूरत ही ...

    सच्चाई - 1
    by Asmita Madhesiya

    कहानी को कहानी  उसके किरदार बनाते हैं। ठीक उसी तरह इस कहानी के किरदार भी हैं। कुछ हो ना हो इन किरदारो में आप अपने आप को जरूर तलाशेंगे।कहानी ...

    सेवाभाव
    by Rajesh Maheshwari

    सेवाभाव   राकेश नाम का एक व्यक्ति कान्हा नेशनल पार्क की एक होटल में कार्यरत् था। एक रात बहुत तेज बारिश हो रही थी और ऐसे खराब मौसम में ...

    નાની વાતો મોટું સ્વરૂપ
    by Ashish

    एक सहेली ने दूसरी सहेली से पूछा:- बच्चा पैदा होने की खुशी में तुम्हारे पति ने तुम्हें क्या तोहफा दिया ?सहेली ने कहा - कुछ भी नहीं!उसने सवाल करते ...

    कर्तव्य से संतुष्टि
    by Rajesh Maheshwari

    कर्तव्य से संतुष्टि   जबलपुर का लोकसभा में प्रतिनितिधत्व कर चुके श्री श्रवण पटेल का कथन है कि उनके पिता स्वर्गीय राजर्षि परमानंद भाई पटेल बहुआयामी प्रतिभा के धनी ...

    Positive Attitude
    by Ashish

    *सकारात्मक सोच का महत्व! ?‍♂*_*एक व्यक्ति ऑटो से रेलवे स्टेशन जा रहा था।  ऑटो वाला बड़े आराम से ऑटो चला रहा था। एक कार अचानक ही पार्किंग से निकलकर ...

    उजाले की ओर - 5
    by Pranava Bharti

    उजाले की ओर-5 ---------------- आ.व स्नेही मित्रो     नमस्कार         बहुत सी बार लोगों को लगता है कि अधिक बहस न करने वाला तथा बात को चुप्पी ...

    गरीबी
    by shama parveen

    गरीबी दुनिया की सबसे बुरी स्तिथि है. गरीबी एक एसी स्तिथि है जिसमें इंसान अपनी छोटी से छोटी जरूरत को भी पूरा नहीं कर पाता. वो दो वक्त का ...

    कुछ कुछ होता था
    by Urmi chauhan

                       कुछ कुछ होता था...ये कहानी एक डरी-सेमहि सी लड़की यानी मेरी है...आप कहानी मे प्रारंभ से अंत तक बने रहिए ...

    कर्तव्य
    by Rajesh Maheshwari

    कर्तव्य   एक गरीब महिला अपने बेटे के साथ नदी से लगी हुई रेल्वे लाइन के ब्रिज के पास झोपड़े में रहती थी। एक दिन रात में दो बजे ...

    कर्म की गति न्यारी कभी कोई राजा तो कोई भिखारी
    by Durgesh Tiwari

    आजकल देखा जा रहा है कि लोग वेवजह के अपना धन बर्वाद करने में लगे हुवे है।कुछ लोग तो धनी होते हुवे भी निर्धन हो जा रहे हैं। तो ...

    आधार शिला
    by sudha bhargava

    कहानी   आधार शिला /सुधा भार्गव नारी के संघर्ष की अनूठी कहानी जिसे एक ही धुन थी शिक्षित होकर उसके प्रसारण से ज्ञानोदय –भाग्योदय करे ।       ...

    हृदय परिवर्तन
    by Rajesh Maheshwari

    हृदय परिवर्तन                 सुरेश, महेश और राकेश तीनों मित्र थे। वे कक्षा दसवीं के छात्र थे। तीनों बहुत शरारती और उद्दण्ड थे। उनके शिक्षक, अभिभावक और साथी सभी उनसे ...

    अमराई
    by Vk Sinha

    यूं तो पर्यावरण के तहत पेड़ॊं का संरक्षण व उनकी समुचित देखभाल की जाती है। कानून भी है कि कोई व्यक्ति बिना अनुमति के अपने वृक्ष भी नहीं काट ...

    उजाले की ओर - 4
    by Pranava Bharti

    उजाले की ओर--4 ------------------ आ. स्नेही व प्रिय मित्रों       नमस्कार          हम मनुष्य हैं ,एक समाज में रहने वाले वे चिन्तनशील प्राणी जिनको ईश्वर ने न ...

    अरुणिमा सिंहा
    by Wr.MESSI

    मन के हारे हार है....और....मन के जिते जित.दोस्तों यह कहावत का मतलब तो आप समझ ही गए होंगे....आज में आपको एसी ही एक सत्य घटना पर आधारित कहानी बताने ...

    बेटी का हक
    by Shikha Kaushik

    सेवानिवृत बैंक-अधिकारी आस्तिक ने तौलिये से गीला चेहरा पोंछते हुए अपनी धर्मपत्नी मंजू से कहा - 'हर दहेज़ -हत्या के जिम्मेदार ससुरालवालों से ज्यादा लड़की के मायके वाले होते ...

    महान धन्वंतरि शिवानन्द
    by Prem Nhr

    बहुत समय पहले की बात है। तब वर्तमान जैसी आधुनिक चिकित्सा पद्धति नहीं थी।उस समय वैद्य हुआ करते थे, कुछ तो इतने कुशल और प्रसिद्ध होते थे कि किसी ...

    ऐसा भी हुआ
    by Rajesh Maheshwari

    ऐसा भी हुआ   कुछ माह पूर्व मुझे अपने आवश्यक कार्य से दुबई जाना था। उस दिन रविवार था और मुझे सोमवार की सुबह रवाना होना था। मैं शाम ...

    बड़ी बहन बनना मुश्किल है
    by Ankusha Bulkunde

         बड़ी बहन बनना मुश्किल है |पवार साहब का परिवार हसता-खेलता था |उनको दो बेटियां थी ,सोना और मोना| दोनों बहनों में 3 साल का अंतर था| दोनों ...

    कृति का पुनर्पाठ: सहज आवश्यकता
    by कृष्ण विहारी लाल पांडेय

    कृति का पुनर्पाठ: औपचारिक कर्मकाण्ड से अलग एक सहज आवश्यकता          किसी कृति का पाठ या विमर्श उसमें निहित लेखक के रचनात्मक निवेश का उत्खनन है। यह उत्खनन ...

    मैं जिंदा हूँ
    by Archana Anupriya

              "मैं जिंदा हूँ.."कस्बे का शहरीकरण हो रहा था और आसपास के सभी गाँवों को जोड़ा जा रहा था। उस चुनावी क्षेत्र के सांसद, रंजीत राय जी एक दबंग इंसान ...

    नारद और महन्त
    by Rajesh Maheshwari

    नारद और महन्त                                          नारद जी ब्रम्हाण्ड का भ्रमण करते-करते आर्यावर्त के इस रेवा खण्ड के एक नगर में अवतरित हुए। यहां उन्होंने देखा एक पत्थर पर एक ...

    उजाले की ओर - 3
    by Pranava Bharti

    उजाले की ओर -- 3 ------------------   स्नेही एवं प्रिय मित्रों       सभीको मेरा नमन      यह संसार एक बहती नदिया है जिसमें सभीको हिचकोले खाने हैं ,कोई तैर ...