रजोनिवृत्ति-पूर्व पश्चात

by Rama Sharma Manavi Matrubharti Verified in Hindi Women Focused

स्त्री जीवन के दो अहम पड़ाव होते हैं-प्रथम रजोदर्शन, द्वितीय रजोनिवृत्ति।एक के बाद प्रकृति स्त्री को मातृत्व वहन करने की क्षमता प्रदान करती है एवं रजोनिवृत्ति के पश्चात प्रजनन क्षमता की समाप्ति हो जाती है।रजोनिवृत्ति 50-60 वर्ष की आयु ...Read More


-->