मुंह खुला का खुला रह गया

by r k lal Matrubharti Verified in Hindi Spiritual Stories

मुंह खुला का खुला रह गयाआर 0 के0 लालदीप बहुत ही संस्कारी लड़का था। उसके पापा अदावल उसकी तारीफ करते नहीं थकते थे। मन ही मन गुनगुनाते रहते, “मेरा नाम करेगा रोशन जग में मेरा राज दुलारा...”। उन्होंने उसका ...Read More