Tumhara Naam - 1 by किशनलाल शर्मा in Hindi Social Stories PDF

तुम्हारा नाम (पार्ट 1)

by किशनलाल शर्मा Matrubharti Verified in Hindi Social Stories

"तुम्हारा कार्ड।"पोस्टमेन की आवाज सुनकर मनीष बाहर गया था।पोस्टमेन ने उसे लिफाफा पकड़ाया था।मनीष ने खोलकर देखा।शादी का कार्ड था।वह श्रेया के कमरे में कार्ड देने गया।श्रेया को कार्ड देते हुए बोला,"तुम्हारा नाम होना चाहिये था लेकिन मनीषा का ...Read More


-->