Best Horror Stories Books in Gujarati, hindi, marathi and english language read and download PDF for free

पठालगांव की वो रात
by Prem Rathod

पठालगांव नाम सुनने में ही बड़ा अजीब लग रहा था मैने वैसे भी पहली बार इस गांव का नाम सुना था पता नही क्यों पर इस बार का सफर ...

रात - 12 - अंतिम भाग
by Keval Makvana

हवेली सुनसान थी। बहुत अंधेरा था।  तीनों ने अपने फोन की टॉर्च चालू कर ली। वो तीनों हवेली के अंदर जाने लगे। अचानक भाविन के पैर में कुछ टकराया ...