Jinnat ki Dulhan - 4 by SABIRKHAN in Hindi Horror Stories PDF

जिन्नात की दुल्हन-4

by SABIRKHAN Matrubharti Verified in Hindi Horror Stories

उस दीन बडी जोरो से बारिश हो रही थी रुकने का नाम नहीं ! बारिश में भीगना गुलशन को ठीक नही लगता था वो चिपके से बरामदे में बैठकर मनहर उधास की गजले सून रही थी ! कि तभी उसके मोबाइल ...Read More