Paar - Mahesh Katare - 2 by राज बोहरे in Hindi Adventure Stories PDF

पार - महेश कटारे - 2

by राज बोहरे Matrubharti Verified in Hindi Adventure Stories

महेश कटारे - कहानी–पार 2 कमला मोहिनी में बँध उठी। घाटी और उसके सिर पर तिरछी दीवार की तरह उठे पहाड़ पर जगर–मगर छाई थी। जुगनुओं के हजारो–लाखों गुच्छें दिप्–दिप् हो रहे थे। लगता था जैसे भादों ...Read More