Read Best Novels of May 2021 and Download free pdf

You are at the place of Hindi Novels and stories where life is celebrated in words of wisdom. The best authors of the world are writing their fiction and non fiction Novels and stories on Matrubharti, get early access to the best stories free today. Hindi novels are the best in category and free to read online.


Languages
Categories
Featured Books
  • तुम दिल चुराने लगे हो

    1.कुछ सुनाओ के जी नही लगतागुनगुनाओ के जी नही लगता धड़कनो में ज़रा तो हलचल हो पास आ...

  • उजाले की ओर –संस्मरण

    उजाले की ओर ----संस्मरण नमस्कार स्नेही मित्रों जीवन जहाँ आसान है, वहीं कठिन भी ह...

  • धुंध: द फॉग - एक हॉरर लवस्टोरी - 17

    अशोक ने क्रिस को इतना गंभीर कभी नहीं देखा था। वो दूर से ही उस पर नज़र रखे हुए था।...

  • पोटली..... एहसासों की - पुस्तक समीक्षा

    पुस्तक समीक्षाभावों की पोटली है : पोटली ...एहसासों की****** पिछले दिनों जब अनुजा...

  • गुलकंद - पार्ट 3

    गुलकंद - 3 - काकाजी के व्यक्तित्व ने उसे सदैव प्रभावित किया था! हँसते-मुस्कुराते...

  • गरीब किसान

    - एक बहुत गरीब किसान था । वह अपनी बेटी के साथ एक छोटी सी झोपड़ी में रहता था । उस...

  • रंजना

    रंजना - एक सच्ची घटना पर आधारित एक अधूरे प्यार की कहानी है, जिसको मैने दिनाँक 26...

  • Love Contract - 13

    विराज टायर बदलने के बाद रीवान से ' अरे भाई अब तुम गाड़ी के बोनट से उतरों और...

  • मोटा दाढ़ी वाला

    प्रदीप श्रीवास्तव वह साँवली सी बमुश्किल पंद्रह-सोलह वर्ष की रही होगी। यही कोई पा...

  • विलोब्रुक की प्रेम कहानी

    विलोब्रुक के छोटे से शहर में, जीवन धीमी गति से चलता था। इसकी विचित्र गलियों और आ...

गरीब की दोस्ती By Harsh Parmar

एक गरीब लड़का था एक छोटे से गांव मे रहता था.फेमिली मे उसकी माँ और उसका पापा ही था | बाप बहुत बीमार रहता था और उसकी माँ लोगो के यहा बर्तन कपड़े धोने का काम करती थी| लड़के का...

Read Free

ज़िन्दगी सतरंग.. By Sarita Sharma

अम्मा की नजरें सामने आती स्कूटी की तरफ़ ही टिकी हुई थी.. कौन है? कौन नहीं ये जानने के लिए अम्मा बेख़ौफ़ होकर सड़क पर स्कूटी के सामने ही आ रही थी.. पी..ईईईप....पीईईईईईईईप........ मैं जो...

Read Free

DUNIYA MERI MUTTHI MEIN By Amar Kamble

जोया माथे को हाथ लगा कर basketball hall के stairs पे बैठी थी। उपर से माया stairs उतरते हुए आई और उसने कहा, “जोया, चल ये books renew करनी हैं...” जोया के face को देख...

Read Free

राधारमण वैद्य-भारतीय संस्कृति और बुन्देलखण्ड By राजनारायण बोहरे

भारतीय संस्कृति और भक्तिराधारमण वैद्य आचारमूलाः जातिः स्यादाचारः शास्त्रमूलकः। वेदवाक्यं शास्त्रमूलं वेदः साधकमूलकः।। क्रियामूलं साधकश्च क्रियापि फलमूलिका। फलमूलं सुखं चैव सुखमाननन...

Read Free

स्वतंत्र सक्सेना की कहानियाँ By बेदराम प्रजापति "मनमस्त"

कहानी स्मृति की पोटली होती है| जो कुछ घट चुका है उसमें से काम की बातें छाँटने का सिलसिला कहानीकार के मन में निरंतर चलता रहता है| सार-तत्व को ग्रहण कर और थोथे को उड़ाते हुए सजग कहानी...

Read Free

जिंदगी By Jay Khavada

जीवन की परिभाषा प्रत्येक व्यक्ति की दृष्टि में भिन्न होती है। आज के परिवेश में हम दौड़भाग में इतने व्यस्त हैं की स्वयं के लिए समय ही नहीं है। अर्थात हम स्वयं से कभी ये भी नहीं पूछ प...

Read Free

मुझसे दोस्ती करोगे By Sarvesh Saxena

"अरे मुन्नी… ऐसे मत दौड़ रोड पर, मुन्नी…... मुन्नी रुक जा, अरे कोई गाड़ी आ जाएगी मुन्नी…, मुन्नी रुक जा…" |दस साल की मुन्नी रात के आठ बजे अपनी मां के साथ शहर के भीड़भाड़ वा...

Read Free

पेहली मुलाकात By Heer Jani

यह उन दिनों की बात है सर्दी का सीजन चल रहा था घर में शादी की तैयारी चल रही थी सब अपनी अपनी पैकिंग में लगे थे घर के एक कमरे में कपड़ों का ढेर लगाए कोई इस कदर बैठा था मानो जैसे उसकी...

Read Free

प्रेमम पिंजरम By Srishtichouhan

मौसम की आवारगी में खोई हू और आज भी मै डायरी में तुम्हारे आने की उम्मीद में लिख रही हूं , यह डायरी जिसमें तुमसे जुड़ी हर बात लिखते ही जा रही , मुझे यकीन है कि तुम आओगे जरूर , 1946 क...

Read Free

जिंदगी के पहलू By Kamal Bhansali

इंसानी जिंदगी धरती पर जब अपना पहला कदम, माँ की बाहों से उतर कर रखती है, तो उसकी पहली लड़खड़ाहट उसे ये एहसास करा देती कि आसान नहीं है, जिंदगी का सफर उसके लिए। पर संभलने का संघर्ष उसे...

Read Free

गरीब की दोस्ती By Harsh Parmar

एक गरीब लड़का था एक छोटे से गांव मे रहता था.फेमिली मे उसकी माँ और उसका पापा ही था | बाप बहुत बीमार रहता था और उसकी माँ लोगो के यहा बर्तन कपड़े धोने का काम करती थी| लड़के का...

Read Free

ज़िन्दगी सतरंग.. By Sarita Sharma

अम्मा की नजरें सामने आती स्कूटी की तरफ़ ही टिकी हुई थी.. कौन है? कौन नहीं ये जानने के लिए अम्मा बेख़ौफ़ होकर सड़क पर स्कूटी के सामने ही आ रही थी.. पी..ईईईप....पीईईईईईईईप........ मैं जो...

Read Free

DUNIYA MERI MUTTHI MEIN By Amar Kamble

जोया माथे को हाथ लगा कर basketball hall के stairs पे बैठी थी। उपर से माया stairs उतरते हुए आई और उसने कहा, “जोया, चल ये books renew करनी हैं...” जोया के face को देख...

Read Free

राधारमण वैद्य-भारतीय संस्कृति और बुन्देलखण्ड By राजनारायण बोहरे

भारतीय संस्कृति और भक्तिराधारमण वैद्य आचारमूलाः जातिः स्यादाचारः शास्त्रमूलकः। वेदवाक्यं शास्त्रमूलं वेदः साधकमूलकः।। क्रियामूलं साधकश्च क्रियापि फलमूलिका। फलमूलं सुखं चैव सुखमाननन...

Read Free

स्वतंत्र सक्सेना की कहानियाँ By बेदराम प्रजापति "मनमस्त"

कहानी स्मृति की पोटली होती है| जो कुछ घट चुका है उसमें से काम की बातें छाँटने का सिलसिला कहानीकार के मन में निरंतर चलता रहता है| सार-तत्व को ग्रहण कर और थोथे को उड़ाते हुए सजग कहानी...

Read Free

जिंदगी By Jay Khavada

जीवन की परिभाषा प्रत्येक व्यक्ति की दृष्टि में भिन्न होती है। आज के परिवेश में हम दौड़भाग में इतने व्यस्त हैं की स्वयं के लिए समय ही नहीं है। अर्थात हम स्वयं से कभी ये भी नहीं पूछ प...

Read Free

मुझसे दोस्ती करोगे By Sarvesh Saxena

"अरे मुन्नी… ऐसे मत दौड़ रोड पर, मुन्नी…... मुन्नी रुक जा, अरे कोई गाड़ी आ जाएगी मुन्नी…, मुन्नी रुक जा…" |दस साल की मुन्नी रात के आठ बजे अपनी मां के साथ शहर के भीड़भाड़ वा...

Read Free

पेहली मुलाकात By Heer Jani

यह उन दिनों की बात है सर्दी का सीजन चल रहा था घर में शादी की तैयारी चल रही थी सब अपनी अपनी पैकिंग में लगे थे घर के एक कमरे में कपड़ों का ढेर लगाए कोई इस कदर बैठा था मानो जैसे उसकी...

Read Free

प्रेमम पिंजरम By Srishtichouhan

मौसम की आवारगी में खोई हू और आज भी मै डायरी में तुम्हारे आने की उम्मीद में लिख रही हूं , यह डायरी जिसमें तुमसे जुड़ी हर बात लिखते ही जा रही , मुझे यकीन है कि तुम आओगे जरूर , 1946 क...

Read Free

जिंदगी के पहलू By Kamal Bhansali

इंसानी जिंदगी धरती पर जब अपना पहला कदम, माँ की बाहों से उतर कर रखती है, तो उसकी पहली लड़खड़ाहट उसे ये एहसास करा देती कि आसान नहीं है, जिंदगी का सफर उसके लिए। पर संभलने का संघर्ष उसे...

Read Free