रिश्ता तेरा और मेरा - 2 in Hindi Love Stories by PriBa books and stories Free | रिश्ता तेरा और मेरा - 2

रिश्ता तेरा और मेरा - 2

करीब एक साल पहले

अवार्ड सेरेमनी चालू है, 'सीप-टेक' कंपनियो के सीईओ, मैनेजर, डिज़ाइनर आये हुए है पूरा सेरेमनी ऑडियंस से भरा हुआ है, और एंकर अन्नोउंस करता हैं बेस्ट परफॉरमेंस ऑफ़ ईयर अवार्ड जाता है

"मिस पिया मल्होत्रा"

और तालियों की जोरदार कड़कड़ाहट

ऑडियंस में बैठी हुई एक 22 साल की लड़की पे स्पॉट लाइट जाता है, क्रीम कलर का ब्लेजर और ट्रॉउज़र के अंदर व्हाइट कलर का शर्ट पहनी हुई लड़की ऑडियंस से बहार आती है।

स्टेज पर आकर वो माइक लेकर बोलने ही वाली थी की उसके मुँह पर किसी ने जोर से पानी फेंका, और सामने से आवाज आ रही थी पीयू उठ ना बाबा उठ।

पिया की दादी पिया को उठाने की कोशिश कर रही थी, बेड के साइड की विंडो का कर्टन खोलकर बोली।

कब से तुझे उठा रही हु पिया उठ जा अभी,

पिया तोह अपने ही सपनों में खो गई थी।

क्या बड़ीमाँ? और दो तीन मिनट रुक जाती तो अवार्ड मिल ही जाता मुझे,

आधी नींद में बड़बड़ाती पिया ने अपना गोरा नाजुक हाथ आखो के सामने रखा,

खिड़की से सूरज की किरणे चहरे पर आने से रोकने का असफल प्रयास कर रही थी वह,

गुलाब के दो पंखुड़ी को मोड़कर रखा हो वैसे उसके गुलाबी कोमल ओंठो पर पानी की कुछ बुँदे सूर्यकिरणों के वजह से चमक रही थी,

अपना हाथ धिरे धिरे आँखों से हटाकर पिया अपने झुपकेदार पलके खोलने की कोशिश कर रही थी,

उसकी आँखे मानो हिरण के छोटे बच्चे जैसी मासूमियत दिखाई दे रही थीं ।

धीरे धीरे नींद से उठकर पिया ने अपने मोबाइल पे टाइम देखकर बोला, मतलब लगभग चिल्ला कर ही बोला

ओह माय गॉड बड़ीमाँ ८ बजकर १५ मिनिट्स हो गए है ये आपने क्या किया ?

मैं २० मिनट लेट हो गई हु, आपने पहले क्यों नहीं उठाया मुझे ?

आपको पता है ना, आज का दिन बहोत इम्पोर्टेन्ट है मेरे लिए बड़ीमाँ,

आज ही के दिन मेरे प्रोजेक्ट का शोकेस है, जिसके ऊपर छह महीनों से मैं काम कर रही थी।

और यहाँ गिला कैसे हुआ? पानी कैसे गिरा?

पीया जस्ट बेड से उठ कर परेशांन होकर बड़ीमाँ पर चिल्ला रही थी।

क्या?? मैंने क्या किया अब ? तुझे पता नहीं पिछले एक घंटे से तुझे उठाने के लिए क्या क्या नहीं किया मैंने,

वह भाई वह...... उल्टा चोर कोतवाल को ही डांट??

कितनी बार आवाज दिया नहीं उठी,

हिलाकर उठाया नहीं उठी, आखिर में ये देख हाथ में पानी का गिलास दिखाके बड़ीमाँ बोली,

मुँह पे जब पानी डाला तभी तेरी नींद टूटी।

अभी बातें करके टाइम जाया मत कर चल उठ और जल्दी तैयार हो।

ये सब सुनकर पिया को याद आया की वो ही कल रात में बहुत देर से सोई थी और इसी वजह से वो आज वक्त पे नहीं उठ पाई थी ।

दौड़कर पिया बाथरूम में फ्रेश होने क लिए चली गई,एक मिनिट्स के बाद तुरंत ही मुँह में ब्रश लिए हुए पिया बाथरूम से बहार आयी और बड़ीमाँ को गले लगाकर बोला " ओह मेरी प्यारी बड़ीमाँ, आय ऍम सॉरी "

छी! छी! पिया क्या बचपना है ये जा पहले नहाकर आ, गुस्सा होकर बड़ीमाँ बोली,

" प्लीज आय एम सॉरी,आप के ऊपर बिना वजह चिल्लाया" सारी गलती मेरी ही थी । 

तु हमेशा ऐसा करती हो पिया,जरा भी सीरियसनेस नहीं है आज इतना महत्वपूर्ण दिन है फिर भी आज तू लेट उठी । जा तू अभी जल्दी तैयार हो

" नहीं पहले मुझे माफ़ करो नहीं तोह मैं नहीं जाउंगी ऐसीही रहूंगी आपको गले लगाते हुए, आय एम् सॉरी ना बड़ीमाँ "

ओके ओके बाबा माफ़ किया, पागल लड़की जा अभी

ही ही ही थैंक यू बड़ीमाँ____पिया स्माइल देकर बाथरूम की और भाग गई।

अपनी स्कूटी लेकर पिया जल्दी ही ऑफिस पहुंच गई,ऑफिस ग्रुप के व्हाट्सएप में में पिया के लिए मैसेज पर मैसेज आ रहे थे,

प्रेजेंटेशन के लिए १५ मिनट बाकी थे। पिया भाग भाग कर अपने डेस्क पर आ गई,

व्हाट यार पिया ??? रियली ?? आज भी लेट, आज तेरे कॅरिअर का सबसे बड़ा दिन है और तू आज भी लेट ??

पिया का कलीग और बचपन का दोस्त  "सोहम"  ने पिया को सुनाया ।

या या आय क्नोव, आय क्नोव, अभी मेरे पास इतना टाइम नहीं है तुम लोगों को एक्सप्लनेशन देने के लिए, बट बिलीव मी आय ऍम रेडी फॉर अवर प्रेजेंटेशन

ये बोलकर पिया ने फटाफट अपना बनाया हुआ प्रेसेंटेशन लास्ट चेक के लिए खोला सब पॉइंट्स बराबर थे, प्रोजेक्ट का मिनिएचर अपने लॉकर से निकाला, सब ठीक था।

पेन ड्राइव में प्रेसेंटेशन कॉपी किया, और प्रोजेक्ट मिनिएचर को बॉक्स में कवर करके पिया बोली यार सोहम प्लीज हेल्प करेगा क्या?

हां बोल ना

बस यहाँ प्रोजेक्ट है प्लीज ध्यान दे मैं २ मिनट में बाथरूम जाकर आती हु।

यस बॉस क्यू नहीं आय एम् हियर फॉर यू।

थैंक यू सोहम, मैं जस्ट अभी आई, ये बोलकर पिया बाथरूम में गई,

बाथरूम से बाहर आकर पिया ने अपना प्रोजेक्ट साथ में लेकर कांफ्रेंनस हॉल में गई,

'सीप-टेक' कंपनी में पिया २ साल से डिज़ाइनर के पद पर काम कर रही  थी और उसने एक कैफ़े का डिज़ाइन बनाया था,

उसका प्रेजेंटेशन और कैफ़े का मिनिएचर को वो आज सीईओ, प्रोजेक्ट डायरेक्टर के सामने पेश करने वाली थी। 

अगर ये प्रोजेक्ट एप्रूव्ड हुआ तोह उसके प्रमोशन के बहोत चांसेस थे

हेलो सर मैडम

माय नेम इस पिया मल्होत्रा एंड आय एम् लीड डिज़ाइनर एट अवर प्लेटफार्म सिप टेक,

लेटस टॉक टुडे अबाउट द न्यू प्रोजेक्ट माय टीम इस अबाउट टू रिलीज़ 

"द एवरीडे कैफ़े"

यह बोलकर पिया ने बड़े कॉन्फिडेंस से अपना प्रेजेंटेशन चालू किआ,

और बॉक्स से अपना मिनिएचर निकालकर टेबल के ऊपर रखा तो.........

वो पूरा टूट गया था, पिया ने छह महीनो से मेहनत लेकर बनाया हुआ प्रोजेक्ट मिनिएचर अब उसके सामने टुकड़ों मे बिखरा हुआ था .........

क्रमशः