Pyar ka khel in Hindi Love Stories by निखिल ठाकुर books and stories PDF | प्यार का खेल - 2

प्यार का खेल - 2

‼️ प्यार का खेल‼️
----------------------------------------------------
अपनों से अपनी बात
---------------------------------------------
जिन्दगी में किसी ना किसी को किसी खास शख्स से प्यार तो हो ही जाता है और कई बार यही प्यार जीने की वजह बन जाता है तो कई बार यही प्यार मरने की बजह बन जाता है।
और कई बार यही प्यार व्यक्ति के जीवन की दशा को बदल देता है तो कई बार यही प्यार व्यक्ति को बर्बाद कर देता है।
प्यार तो सभी अपनी जिन्दगी में करते है परंतु उन सभी में से कुछ ही लोगों का प्यार मुक्कमल हो जाता है और वे एक दूसरे से शादी करके जीवन व्यतीत करने लगते है और कुछ लोगों को प्यार में धोखा ही मिलता है अथवा कुछ लोगों के प्यार में हालात कुछ ऐसे बन जाते है कि व्यक्ति चाह कर भी अपने प्यार को नहीं पा पाता है .....और उनके पास दूर होने के अलावा और कोई भी रास्ता नहीं रहता है।
प्यार पर आधारित मेरी यह नवीन पुस्तक जिसका नाम है """ प्यार का खेल"" एक ऐसे लड़के के जीवन पर आधारित है जिसने पाँच साल पहले ही अपनी प्रेमिका की खुशी के लिए छोड़ दिया था ...,क्योंकि उन दोनों के बीच की परिस्थिति ही कुछ ऐसी थी कि दोनों चाहकर भी एक दूसरे के साथ नहीं रह पाये।आप सब मेरी उस कहानी को मेरी पुस्तक "" निखिल निराला प्रेम जोगी""" जो जल्दी ही प्रकाशित होगी..,उसमें पढ सकते है ..,,और मुझे उम्मीद है कि आप सभी को मेरी सभी पुस्तकें बहुत पसंद आयेगी और प्यार को एक नये तरीके से समझने में आप सबको मदद मिलेगी।
मैने इस पुस्तक को एक अलग तरीके से लिखने का प्रयास किया है ..,इस आधुनिक युग में मैंने आधुनिक युवक /युवतियों की रूचि के अनुसार ही एक नये रूप में लिखने का प्रयास किया है...जिससे आप सभी को इस पुस्तक को पढ़ने में आनन्द आये और पढ़ने में रोमांच आये ..,और पढते समय आप सब ऊब ना जायें .....और इस पुस्तक की कहानी को पढ़ते हुये आपको यह कहानी बिल्कुल ऐसे लगे जैसे यह कहानी आपकी आँखों के समक्ष चल रही हो...और जितना मुझसे हो सका मैने इस नवीन रूपी लेखनशैली को आप सबके समक्ष प्रस्तुत करने का प्रयास किया है। मैं उम्मीद करता हूं कि मेरी यह पहली पुस्तक आप सबको बेहद पसंद आयें और आप सब मेरी इस पुस्तक को ढेर सारा प्यार देंगे ...जिससे मुझे भविष्य में इसी तरह से लिखने की प्रेरणा मिलती रहे। आपके प्यार से ही हमें कुछ नवीन विषय पर नवीन तरीके से लिखने की प्रेरणा मिलती है ...और सभी मुझे अपने सुझाव मेरी ईमेल पर मुझे जरूर दें ....जिन्हें पढ़कर मुझे प्रोत्सहाना मिले अपनी दूसरी किताब को लिखने के लिये।
आप सबके प्यारा की आशा करते हुये मैं यह पुस्तक आप सभी प्रिय पाठक व पाठिकाओं को समर्पित करता हूं ...।
आप सबके प्यार से ही मुझे और अधिक लिखने की प्रोत्साहना मिलती है और मैं और भी अधिक मेहनत और प्रयास करूंगा कि जिससे आप सबको और भी अच्छी -अच्छी पुस्तकें पढ़ने को मिले।
आप सबका अपना प्यारा सा
निखिल ठाकुर .....
ई-मेल :- chetram01995@gmail.com