अन देखी दुनिया - 7 in Hindi Adventure Stories by Vaibhav Surolia books and stories Free | अन देखी दुनिया - 7

अन देखी दुनिया - 7

अन देखी दुनिया - 7 

अजय केशव की मदद करने के लिए नजर बट्टू के सामने आता है। नजरबट्टू उसको देखकर कहता है अच्छा तो तू भी उसके साथ मिला हुआ है अब तुम दोनों यहां से बचकर नहीं जा पाओगे । 

इतने में जिन सुप्रिया और याशिका तीनों उसके सामने आ जाते हैं और तीनों कहते हैं  यह अकेले नहीं है हम भी इनके साथ है । 

नजरबट्टू पांचो को देखकर बोलता है अरे वाह आज तो मजा आएगा खाने में तुम सब को खा जाऊंगा । 

इतने में अजय जैन की तरफ इशारा करता है और जिन पक्षी बनकर नजर बट्टू को परेशान करने लगता है यह मौके का फायदा उठाकर  अजय उसका पाव पेड़ के नीचे से निकालने की कोशिश करता है और वह निकाल लेता है लेकिन अजय का ही पाव पेड़ के नीचे आ जाता है । नजरबट्टू वहां जिन को हाथ मार कर फेंक देता है और वह अपने असली रूप में आ जाता है इतने में वह देखता है कि अजय सामने पड़ा हुआ है अजय की तरफ जाता है और वह पेड़ हटाकर अजय को लात मारता है और अजय पीछे एक पेड़ पर जा कर गिरता है । 

वह सब डर जाते हैं इतने में जिन सबको तालीम घर में जादू से भेज देता है और खुद भी चला जाता है वह पांचो खालिब के सामने आकर मिलते हैं , खालिब उनको देखकर बोलती है ।

तुम लोग यहां क्यों आए मैंने कहा था ना लालटेन लेकर ही वापस आना । 

इतने में याशिका बोलती है कि वह छोटी उस्ताद देखो ना अजय तू कितनी चोट आई है वहां पर एक बड़ा राक्षस था नजर बट्टू नाम का उसने अजय को लात मारकर पेड़ पर पटक दिया तो इसलिए जिनु ने जादू से हमें यहां ला दीया । 

सब छोटे उस्ताद ( खालिब ) से माफी मांगने लगे । उन्होंने खूब विनती की कि हमें माफ कर दो हमें मजबूरन इधर आना पड़ा वरना हम नहीं आते ।

छोटे उस्ताद ने उन सब को माफ कर दिया और कहा कि अब अगर यहां आना तो लालटेन लेकर ही आना वरना .......

यशिका ने छोटे उस्ताद की बात को टोककर कहां हम अब यहां आएंगे तो लालटेन के साथ ही आएंगे वरना नहीं आएंगे ।

उन सबको छोटे उस्ताद ने माफ तो कर दिया था लेकिन उनके सामने यह चुनौती थी कि वह नजर बट्टू का सामना कैसे करें और अपनी मंजिल पर कैसे पहुंचे । 

अजय एक बगीचे में सोच रहा था जहां एक बहुत बड़ा बरगद का पेड़ था । मैं सोच रहा था नजर बट्टू से हम कैसे पीछा छुड़ाएं कुछ समझ में नहीं आ रहा था । इतने में उसके सामने अचानक से एक चाचा आए उन चाचा का नाम बुलबुल चाचा था वह  अजय से कहने लगे.......( इस बात को हम 8 एपिसोड में करेंगे )

तो पांचो पर एक और संकट आ गया था और वह संकट यह था की अब उन्हें नजर बट्टू का सामना करना था लेकिन वह कुछ सोच ही नहीं पा रहे थे कि हम नजर बट्टू का सामना कैसे करें  अगर आप लोगों को भी जानना है कि अजय याशिका और जिन नजर बट्टू का सामना कैसे करने वाले हैं तो पढ़ना ना भूले " अन देखी दुनिया - 8"  6 दिसंबर को ।  

To be continued..............