Second Love - 3 in Hindi Love Stories by Mehul Pasaya books and stories PDF | सेकंड लव - 3

सेकंड लव - 3


"अच्छा सुनो काजल जी फिर कब और कहा मिलेंगे येह तो बता ते जाओ"


"हा आयुष जी यही पर इसी गार्डन मे"


"ओके तो कल यहा इसी जगह मिलेंगे ओके"


"ओके आयुष जी ठीक इसी वक़्त आजायेगा अभी 4:00 pm राइट मिलेंगे ओके"


"जी ठीक है अब चलते है बाई सी यु टेक केयर"


"सेम डीयर आयुष"


"वन डे लेटर..."


"हेल्लो आयुष जी मे"


"हेल्लो जी"


"हम अपका कबसे वेट कर रहे है कितनी देर लगा दी आने हुमे कितनी फ़िकर हो रही थी पता है अपको आयुष जी"


"हम्म तो हम इस फ़िकर करने से तो जान गये है की आपकी हा है बट हम एक बार आपके मुह से सुनना चाहते है खुलके बताओ क्यू की पूरी लाइफ हुमे एक साथ रेहना है ओके"


"हा आयुष जी हुमे मंजूर येह प्रोपोसल"


"चलो थोडा चल्के बाते करते है"


"जी"


"काजल जी देखो जिन्दगी मे बहुत सारे ऐसे पल आये है हमारी जिन्दगी मे पर तुम वोह पेहला पल हो जो हमारी जिन्दगी मे पेहली बार आये हो शुक्रिया उश खुदा का जो अपको हमरी जिन्दगी से जोडा"


"अरे आयुष जी शुक्र गुजार तो हम है की आप हमारी जिन्दगी मे आये और हम भी भगवान के शुक्र गुजार रहेंगे की उन्होने आपसे मिल्वाया आपके साथ हमारी जिन्दगी जोडी और हमे एक राश्ता दिया जीने का। और हा आयुष जी हमे ना कभी भी इस दूनिया मे आपके जेसा इन्सान नही देखा"


"अरे काजल जी बस करो आज ही सारी की सारी तारिफ करोगे क्या कुच बाकी भी तो रखो दूसरो को बताने के लिये"


"ओके आयुष जी ठीक है और अब येह बताईये की हम आपको क्या केह कर बुलाये ?"


"हम्म काजल जी आप हमे जनाब


बुलाये क्यू की हमने तो उस वक़्त अपको हमारी वाइफ मान लिया था जब हमने अपको पेहली बार देखा था"


"माशा अल्लाह क्या बात हे जनाब जी आपने तो हमे आज इतनी सारी खुशी देदी की हम सोच नही सकते की अपका शुक्रिया अदाह केसे करे"


"अरे काजल जी इश्मे शुक्रिया केसा और येह सब अपनो के बिच मे नही बोला जाता बाई द वे काजल जी हम आपको क्या बोल कर बुलाये ?"


"हम्म हमे भी मोह्हतर्मा जी बोलो वेसे भी हम भी आपकी तरह है हम मोह्हबत को शादी तक जायेंगे येह वादा है आपसे चाहे कुच भी हो जये कुच भी करना पडे पर शादी तो हम आपसे ही करेंगे वरना मर जायेंगे पर दुसरे से शादी कभी नही करेंगे"


"ओके मोह्हतर्मा जी मान गये अपको अब हमारा वादा भी सुनो हम भी शादी करेंगे तो सिर्फ और सिर्फ आपसे करेंगे चाहे कुच भी करना पडे येह हमारा वादा है आपसे"


"ओके जनाब जी गार्डन का राश्ता खतम हो गया अब वापस चले गेट पे"


"ओके चलो अच्छा सुनो मोह्हतर्मा जी अपका नं तो देदो ताकी हम बाते कर सके वर्ना हम ऐसे ही परेशान रहेंगे मिल्ने के लिये"


"ओके येलो जनाब जी नं नोट करो 91 **********"


"ओके जी कर लिया नोट अच्छा सुनो मोह्हतर्मा जी हम ना इस पल को अच्छे से जीना चाहते है हम ना हमारे प्यार को थोडी देर अपनी बाहों मे यूं घेर के रखना चाहते है चलो एक दुसरे की बाहों मे कुच यूं गुम हो जाये की इस दूनिया मे से प्यार वाली दूनिया मे चलते है"


"हा चलो हम भी इस पल का बहुत देर तक इन्तेज़ार कर रहे थे तो चले"


"हा चलो"


"रनिंग टू फाईव मिनट्स मोमेंंट ऑफ़ लव"...


To be continue...