Unsolved Questions (Part 14) in Hindi Short Stories by किशनलाल शर्मा books and stories PDF | अनसुलझा प्रश्न (भाग 14)

अनसुलझा प्रश्न (भाग 14)

43--मां का दर्द
"अम्मा गांव में अकेली क्यो रहती है?बेटे के पास क्यो नही चली जाती?'
विधवा होने के बाद रमिया को अपना और बेटे का पेट भरने के लिए मजदूरी करनी पड़ी थी।स्वंय अनपढ़ थी लेकिन शिक्षा का महत्त्व समझती थी।एकL इकलौते बेटे को अफसर बनाने के लिए उसने दिन रात मेहनत की थी।उसकी मेहनत का ही फल था कि बेटा आई ए एस हो गया था। नौकरी लगते ही एक अफसर ने अपनी बेटी की शादी उस से कर दी थी।
बेटा शहर में कलेक्टर था।लेकिन रमिया बुढ़ापे में गांव में अकेली रहती थी।उसे देखकर रोज गांव का कोई न कोई आदमी टोक देता।दिल से तो रमिया भी चाहती थी,बेटे के पास रहे।लेकिन मॉडर्न बहु अनपढ़ फूहड़ सास को अपने साथ रखकर सोसाइटी में अपनी रेपुटेशन का कचरा नही कराना चाहती थी।
रमिया लोगो को कैसे बताए कि बेटा तो उसे अपने पास रखना चाहता था पर बहु के आगे मजबूर था।
44--लालच
राकेश अफसर था।उसकी शादी नेहा से हुई थी।नेहा भी अफसर थी।उस पर सोने में सुहागा पति पत्नी की पोस्टिंग एक ही शहर में थी।
सरकारी नौकरी में पति पत्नी कब तक एक ही शहर में रह सकते थे।पति पत्नी दोनों का अलग अलग शहर में ट्रांसफर हो गया।पति पत्नी का मिलन कैसे हो?दोनो ने एक तरकीब निकाली।कभी राकेश छुट्टी लेकर कुछ दिनों के लिए पत्नी के पास चला जाता।कभी नेहा छुट्टी लेकर पति के पास चली जाती।
पहले वे दो थे।फिर तीन और बाद में चार हो गए।अब पति पत्नी अलग अलग शहरों में है।बेटा दादा दादी के पास और बेटी नाना नानी के पास रह रही है।
कभी कभी नेहा सोचती है---वह नौकरी छोड़ दे और बच्चों को लेकर पति के पास रहे।
लेकिन हर महीने मिलने वाले वेतन का लालच उसे ऐसा नही करने देता।
45--थप्पड़
"डॉक्टर ने बेड रेस्ट बताया है।ससुराल में इसे कहां आराम। मिलता इसलिए मैं इसे अपने साथ ले आयी हूँ।"
पारुल की एक साल पहले महेश से शादी हुई थी। गर्भवती होने के बाद अचानक एक दिन उसकी तबियत खराब हो गयी।पारुल की सास सरला ने फोन करके अपनी समधन रेखा को बताया था।समधन का फोन मिलते ही रेखा तुरन्त अपनी बेटी की ससुराल जा पहुंची।
रेखा ने बेटी को डॉक्टर को दिखाया था।डॉक्टर ने चेक आप करने के बाद दवा लिखते हुए कहा था,"इन्हें पूरी तरह बेड रेस्ट की जरूरत है।"
सरला अपनी बहू को मायके भेजना नही चाहती थी लेकिन रेखा जिद्द करके अपनी बेटी को साथ ले आयी।
",तुम औरते दोहरा मापदंड क्यो अपनाती हो?"पत्नी की बात सुनकर सुधीर बोला।
'क्यो?"रेखा ने पति से पूछा था।
"बेटी की तुम्हे इतनी चिंता है लेकिन बहु की नही।उसे भी डॉक्टर ने बेड रेस्ट बताया है लेकिन उसे सारे दिन काम मे लगाए रहती हो।'सुधीर बोला,"तुम्हारी बहु भी किसी की बेटी है।'
सुधीर की बात सुनकर रेखा को ऐसा लगा मानो पति ने बातो ही बातो में उसे थप्पड़ मार दिया हो।
46--पति
"तुमने करवा चौथ का व्रत नही रखा?"
आज करवा चौथ थी।सुहागनों ने व्रत रखा था।ऑफिस में काम करने वाली सभी औरतों ने व्रत रखा था
वे चाय पानी नही पी रही थी।लेकिन नई आयी तृप्ति को खाते पीते दखकर नेहा ने पूछ ही लिया था।
"पिछले जन्म मे भी व्रत रखें होंगे फिर भी शराबी अय्यास पति मिला है।अगले जन्म में कुंवारी रह लुंगी।लेकिन व्रत रख कर पति की चाहना नही करूंगी।"