Ishq e Prapanch - 40 in Hindi Love Stories by Khushbu Pal books and stories PDF | इश्क ए प्रपंच - 40 - जीरो

Featured Books
Share

इश्क ए प्रपंच - 40 - जीरो

😘 😘 Jinu 😘 😘 😘:
अगले दो दिन बाद में सीक्रेट मैगजीन वालों ने ओरिएंटल एडिशन की सक्सेस पार्टी रखी थी। पार्टी में नैना और लोरी। दोनों गेस्ट ऑफ ऑनर थे और दोनों ही और पार्टी में इंटरव्यू के बाद पहली बार एक साथ आने वाले थे।


यहां दोनों ने शूट के उलट। कपड़े पहने हुए थे लोरी ने जहां काले रंग का गाउन पहना हुआ था वहीं पर नैना ने ऑफ वाइट कलर का एक प्यारा सा ड्रेस पहना हुआ था। जहां लोरी बोल्ड एंड ब्यूटीफुल लग रही थी वहीं पर।


नैना किसी परी से कम नहीं लग रही थी। बात को आगे बढ़ाते हुए लोरी ने नैना से कहा थैंक यू नैना तुम्हें नहीं पता तुमने टॉप एंड मॉडल कंपटीशन में पहुंचने में मेरी कितनी ज्यादा मदद की है,। तुम्हें नहीं पता है। पिछले दिनों में मुझे कितने सारे ऑफर आए हैं?


नैना ने मुस्कुराते हुए कहा, अच्छा तो आप अपने आप को कामयाब बनाने के लिए तुम अभी भी सुकन्या सक्सेना का नाम इस्तेमाल कर रही हो। यह सुनकर कविता का मन किया कि वह नैना की आंखें नोच ले। तभी एक कुछ फोटोग्राफर और मीडिया वालों की नजर नैना पर पड़ी और वहां पर गरमा गरमी का माहौल शुरु हो गया।


ओ माय गॉड क्या यह एशियन मॉडल नैना है? हां हां, यह वही है, चलो चलो उनका फोटो लेते हैं और उनसे इंटरव्यू लेते हैं। जैसे ही रिपोर्टर ने नैना की तरफ बढ़े नैना अंदर चली गई क्योंकि इनसे बचने के लिए उसका अंदर जाना ही ठीक था। करण ने पीछे से आकर कहा, चलो हमें भी अंदर चलते हैं।

नैना आगे -आगे लोरी और करण पीछे पीछे पार्टी में पहुंचे थे जैसे ही नैना पार्टी में पहुंची हर तरफ से उसका नाम सुनाई दे रहा था। हर कोई उसकी तारीफ कर रहा था और लोरी सुन सुन कर चल ही रही थी। उसे समझ ही नहीं आ रहा था कि आखिर दोनों ने एक ही कवर शूट का काम किया है। उसके बाद भी हर कोई नैना का ही नाम क्यों लिए जाला जा रहा है?


डायना ने दोनों को एक साथ इंटरव्यूज कराया। डायना नहीं स्टेज पर कहा, आज मैं अपनी नई लांच के हीरो से आप लोगों को मिल जाती हूं। एशियन मॉडल नैना और लोरी।


नैना के नाम से तो हर कोई परिचित था। पार्टी में मौजूद हर शख्स उसके बारे में जानता था क्योंकि अब तक वह इंटरनेट पर बहुत सबसे ज्यादा सर्च की गई जाने वाली नाम बन चुकी थी।


पर लोरी उसके बारे में किसी को कुछ पता ही नहीं था। लोरी का नाम सुनकर सब आश्चर्य से एक दूसरे की शक्ल देख रहे थे कि आखिर यह कौन है कवर पर कोई और भी था क्या कवर तो हर किसी ने देखा था पर किसी का भी ध्यान नैना से हट ही नहीं पाया और कोई लोरी को देख ही नहीं पाया कि कवर में कोई और भी है।

अच्छा अच्छा यह वही लड़की है जिसने नैना का हाथ पकड़ा, पकड़ रखा था। मैं अगर दोबारा नहीं देखता तो मुझे तो पता ही नहीं चलता। ऐसा लग रहा था कि वह बस जो सेट अप है, उसका हिस्सा है। लगा ही नहीं कि कोई और भी मॉडल वहां पर खड़ी है। लोरी को यह सब सुन सुनकर बहुत ज्यादा गुस्सा आ रहा था। उसे लग रहा था कि यह सब कुछ नैना के खरीदे हुए फैन हैं और यह सब नैना जान बूझकर पैसे देकर करवा रही है।


लोरी को तो यकीन ही नहीं हो रहा था कि मैंने सिर्फ अपनी तारीफ करने के लिए ही नहीं बल्कि लोरी की बेइज्जती करने के लिए भी लोगों को पैसे दिए हैं। वह गुस्से में स्टेज पर किनारे जाकर खड़ी हो गई थी। तभी वह नैना की तरफ बढ़ी और उसे जाकर कहा, तुम्हें क्या लगता है, तुम कितनी घटिया हो सकती हो? तुमने लोगों को मेरी बेज्जती करने के लिए खरीदा हुआ है और तो और तुम इन लोगों से मेरी मुझे यहां पर बातें सुन पा रही हो। तुम्हें क्या लगता है इस शब्द से तुम मेरी प्रतिभा को दबा दोगी और तुम मुझसे आगे निकल जाओगी यह मत भूलो कि इस मैगजीन की सेल में मेरा भी योगदान है।


नैना तुम्हें अपने बारे में बहुत ज्यादा गलतफहमियां है। अपने आप को इतना बड़ा मत सोचा करो। गुस्से में लोरी न्यूज़ रिपोर्टर की तरफ मुड़ी और उनसे कहा, तुम लोगों को कितने में खरीदा है नैना ने मुझे बताओ जरा तुम्हारी कीमत क्या है?


वैसे तो डायना को इन दोनों की बातें समझ में नहीं आ रही थी। वह दुभाषी है। की मदद से उसने जानने की कोशिश करी और जब उसे बात समझ में आई तो डायना का गुस्सा आसमान के पास था, वह लोरी के पास गई और उससे एक किनारे ले जाते हुए बोली। मैंने तुम्हें अच्छी नियत से बुलाया था पर तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई कि तुम यहां पर रिपोर्टरों की बेइज्जती कर रही हो, कुछ भी बोले, चले जा रही हो और उनको और यही तुम्हारा प्रोफेशनलिज्म है।

तुम ही ऐसे बड़े इवेंट में ऐसे पब्लिक के बीच में क्या बोलना चाहिए?। क्या नहीं इतनी भी तमीज नहीं है क्या यह भी नहीं पता कि रिपोर्ट से कैसे बात करनी चाहिए?

नैना ने कोई जवाब नहीं दिया तो तभी पीछे से कराया और करण ने नैना से कहा, मैं सोच नहीं सकता कि अपना बदला लेने के लिए तुम इस हद तक जा सकती हो।

नैना ने हल्की सी मुस्कुराहट के साथ कहा, बदला और मैं जिसका कोई इंडस्ट्री में बैकग्राउंड नहीं है उसके साथ -साथ ना ही मेरे पास में कोई बहुत अच्छा हाई क्लास मैनेजर है और तो और मेरी तो ड्रेस भी छीन ली गई थी। मैं कैसे किसी से बदला नहीं ले सकती हूं?


लोरी ने धीरे से डायना के कान में कहा, आपको नहीं पता इन सबको नैना ने पैसे देकर यहां पर बुलाया है। यह सब इसलिए आए हैं ताकि मेरी बेइज्जती कर सके। मुझे नीचा दिखा सके।


यह सुनते ही डायना के चेहरे पर एक मजाक भरी मुस्कुराहट आ गई और उसने लोरी की ओर देखते हुए कहा, वैसे तो आज का दिन खुशियां मनाने का है आज के दिन मैं तुम्हारे साथ इन बहस में। पढ़ना नहीं चाहती पर अगर तुम्हें यही चाहिए तो यही सही यह कहते हुए उसने मैगजीन की कॉपी लोरी के हाथ में थमा दी।


आगे डायना ने कहा देखो इसको हमने तुम्हारे लिए तय किया था कि तुम अलग कपड़े पहन ओग्गी और इन सबसे अलग दिख होगी क्योंकि तुम्हारी पर्सनैलिटी खुशमिजाज है और देखो अपने आप को कितने गलत थे हम?


अच्छा हुआ भगवान जो करता है, अच्छे के लिए करता है तुमने खुद नैना के साथ अपने कपड़े बदल दिए और देखो नैना को देखो, तुम कहीं से दिख ही नहीं रही हो। इस सब में रिपोर्टर तुम्हें कैसे पहचानेंगे?


और सबसे अच्छी बात! अच्छी मॉडल वह होती है जो दिए हुए कपड़ों को ऐसे दिखाई कि उससे अच्छा किसी ने नहीं पहना है फिर। चाहे उसे हिंदी और फटे हुए कपड़े ही क्यों ना पहन कर रखने हो और तुम देखो तुम ने हालांकि बहुत सुंदर गाउन पहन रखा है और उसके बाद भी तुमने तुम अपने में ही मग्न हो और तुम्हें एक्सप्रेशन देने ही नहीं आते तो तुम कैसे दिख होगी?

अगर तुम्हारी जगह में होती तो यहां लोगों के सामने खड़ी नहीं होती और ना ही अपने देश वापस लौटने की हिम्मत कर पाती। वहां जाकर मैं वहां के लोगों को क्या मुंह दिखाऊंगी कि विदेश में जाकर मैंने अपने देश की कितनी बेइज्जती कर आई है। ध्यान से देखो इस मैगजीन को इस मैगजीन में दो मॉडल ने काम किया है एक के बारे में लोग तारीफ करते नहीं थक रहे हैं और दूसरी जिसके बारे में कोई भी बात नहीं कर रहा है, कोई भी मतलब कोई भी मतलब जीरो।

जीरो का मतलब समझ आता है ना तुमको!

जब मैग्जीन रिलीज हो रही थी तो तुम लोगों की फोटो आई थी तभी हमने यह सोच लिया था कि कम से कम तुम कंट्रास्ट का काम तो करोगी? पर तुम से तो वह भी नहीं हो पाया।

यह सुनकर लोरी का चेहरा सफेद पड़ गया और उसे समझ में ही नहीं आ रहा था कि वह कैसे रिएक्ट करें उसे तो फिलहाल अभी भी यही लग रहा था कि अब यह सब कुछ डायना और नैना के बीच का खेल है। यह दोनों आपस में मिली हुई है और दोनों ने उसके खिलाफ साजिश की है।

इस वक्त पार्टी में इनवाइट होने पर लोरी को फिर भी अपनी जगह समझ में आ रही थी वह भी कवर फोटो की एक मॉडल है। पर जब उसे समझ में आया कि लोग यहां पर उसे बैकग्राउंड का हिस्सा समझ रहे हैं लोग उसे भी एक मॉडल की तरह दिख ही नहीं रहे हैं तब उसका कॉन्फिडेंस पूरी तरह से टूट चुका है।

दरअसल नैना अपने काम में इतनी अच्छी थी कि उसे कवर फोटो में सिर्फ वही दिख रही थी और उसके अलावा वहां पर मौजूद हर चीज सिर्फ और सिर्फ बैकग्राउंड ही लग रही थी और यही कारण था कि लोरी के बारे में कोई भी बात नहीं कर रहा था।

हाथ में मैगजीन लिए लोरी दो कदम पीछे हटी और वह शायद गिर ही गई होती। अगर करण ने उसे आकर नहीं पकड़ा होता तो?

आगे बढ़कर डायना ने कहा, मैंने सुना है तुम्हारे देश में एक आर्टिकल छपा है जिसमें लोगों ने तुम्हें और सुकन्या सक्सेना को एक जैसा बताया था। लोगों का कहना यह था कि तुम और सुकन्या सक्सेना एक जैसे बराबरी की मॉडल हो पर आज तुम्हें देख कर यह समझ में आ गया है कि तुम्हारे यहां पर आर्टिकल खरीदे जा सकते हैं।

लोरी को तो ऐसा लग रहा था जैसे उसके ऊपर बिजली गिर गई हो।

वह हाथ में अपने मैगजीन को लेकर खुद को घूर रही थी और समझाने की कोशिश कर रही थी कि आखिर हुआ क्या है?

तभी गुस्से में उसने नैना से कहा, मुझे यकीन नहीं हो रहा है कि तुम मुझे बर्बाद करने के लिए इस हद तक जा सकती हो।

करण हर बात पर सिर्फ और सिर्फ नैना को ही गलत ठहरा रहा है।

नैना तुम्हें लगता है कि मैं तुमसे बदला लूंगी। अगर तुम्हें यह लगता है कि मैंने यह सब बदला लेने के लिए क्या है तो असली बदला तो अभी बाकी है।

और नैना ने यह कहकर डायना की और देखा डायना और नैना अंदर स्टेज की तरफ चले गए जहां पर आई एस एन के मैनेजमेंट हेड मौजूद थे।

उन सब ने नैना को स्टेज पर बुलाया और अनाउंस किया कि वह नैना को एशिया के मार्केट के लिए अपनी ब्रांड एंबेसडर बनाने वाले हैं।

यह सुनकर करण को समझ ही नहीं आया कि वह क्या बोले जैसे ही अनाउंसमेंट खत्म हुई उसने नैना को ओर एक और खींचा और कहां यह सब कुछ तुम मुझे कब बताने वाली थी?

नैना मैं सब कुछ बताने वाली थी। तुम्हें सब कुछ पता ही तो चल गया है। और कंपनी तुम्हारी है तुम्हें? कंपनी के अंदर क्या चल रहा है क्या नहीं इसकी खबर तुम ही रखनी चाहिए?

करण तुमने यह सब कुछ कब किया यह डिल तुमने कब फाइनलाइज कर ली?

नैना ठीक उसी समय जिस समय तुम अपनी इंगेजमेंट पार्टी की डिटेल्स फाइनलाइज कर रहे थे।