Ishq e Prapanch - 43 books and stories free download online pdf in Hindi

इश्क ए प्रपंच - 43 - अपना समान बांध लो

😘 😘 Jinu 😘 😘 😘:
नैना जैसे ही अंदर आई फैंस उसका नाम लेकर चिल्लाने लगे। नैना तुम बहुत अच्छी हो, तुम्हारे फोटो बहुत अच्छे हैं। हम तुम्हें बहुत पसंद करते हैं और भी बहुत कुछ सारे फ्रेंड्स नैना को इसी तरीके से आवाज लगा रहे थे।

नैना ऐसे ही थोड़ा आगे बढ़ी जहां पर कम लोग थे उसने वहां अपने फैंस के साथ बहुत सारे फोटो खिंचवाई और उनको ऑटोग्राफ दिया और जैसे ही भीड़ बढ़ने लगी तो राजवीर के भेजे हुए बॉडीगार्ड ने उसके लिए रास्ता बनाया। तभी।

मीरा! ने! बीच बचाव किया और फैंस को जाकर कहा कि नैना को काम की वजह से ज्यादा आराम करने का मौका नहीं मिल पाया है। मुझे उम्मीद है, आप लोग समझ सकते हैं कि उसे थोड़ा आराम की जरूरत है।

यह कहकर राशि और मीरा। को टर्मिनल की ओर ले जाए जैसे ही वह लोग पहुंचे वेटिंग लाउंज में नैना बैठ कर इंतजार करने लगी। राजवीर उससे दो लाइन आगे बैठा हुआ था और राजवीर के हाथ में सीक्रेट का लेटेस्ट एडिशन था। राजवीर जब मैं दूरी न देख रहा था तभी उसके बाजू में बैठी महिला ने कहा।

बेटा यह जब मैग्जीन देख लोगे और तुम इसे पढ़ चुके होंगे तो क्या प्लीज तुम यह मुझे दे सकते हो। मैं बहुत टाइम से पढ़ना चाह रही थी। पर ही है। इतनी ज्यादा फेमस हो गई है कि मुझे अब मिल ही नहीं पाई है।

राजवीर जी बिल्कुल!

नैना उसे पीछे से बैठकर देख रही थी और उससे पूछना चाहती थी कि अपनी बीवी की फोटो वाली मैगजीन हाथ में लेकर कैसा लग रहा है? नैना ने अपना फोन निकाला और राजवीर को मैसेज किया। पीछे से बहुत हैंडसम लग रहे हो।

राजवीर! घर चल कर पियूष को बोलना कि तुम्हारे साथ वाले फोटो में किसी और की जगह पर मुझे खड़ा कर देगा तब ऐसा नहीं होगा कि कोई नोटिस ना कर पाए।

नैना मिस्टर ओबरॉय आप ऐसा नहीं कर सकते। अगर आपने ऐसा किया तो कोई भी मुझे नहीं देखेगा। यह पढ़कर राजवीर के चेहरे पर मुस्कुराहट आ गई और उसने नैना को मैसेज किया। मैं पीछे मुड़कर तुम्हें देखना चाहता हूं।

नैना की आंखें भर आई पर वह कुछ भी नहीं कर सकती थी पर तभी उसकी फ्लाइट की बोर्डिंग का अनाउंसमेंट हो चुका था और नैना उठकर आगे निकल गई।

अब नैना आगे- आगे चल रही थी और राजबीर ने उस महिला को मैगजीन दे दी और वह भी उठकर! नैना के ठीक पीछे पीछे चल दिया।

इस तरह से राजवीर को पीछे मुड़कर देखने की जरूरत नहीं है। दरअसल राजवीर चाहता तो आराम से वीआईपी लॉन्च में बैठकर।

इंतजार कर सकता था पर कॉमन लाउंज में बैठकर नैना के लिए इंतजार कर रहा था जब चेकिंग पॉइंट पर दोनों पहुंचे उस समय पर पीछे भीड़ में खड़े बहुत सारे लोग आगे चलकर नैना से बात करना चाह रहे थे। ऑटोग्राफ से लेना चाह रहे थे। पर उन्हें यह नहीं पता था कि राजवीर जानबूझकर नैना के लिए रास्ता रोककर खड़ा है और तब तक वहीं पर खड़ा रहा जब तक नैना फर्स्ट क्लास के केबिन में नहीं चली गई और तब तक उसने अंदर किसी को चेकिंग प्रोसेस के आगे जाने ही नहीं दिया।

और ऐसा क्यों ना करता आखिर उसका पति है उसकी रक्षा करने का राजगीर का धर्म है और राजवीर यह अच्छे से करना जानता है।

ऑनलाइन लोरी एक मजाक बन चुकी थी उसे तरह- तरह की मॉडलों के साथ कंपेयर किया जा रहा था। एक तरफ मॉडल की फोटो भेजो कि अलग-अलग सोच में गई हुई थी और दूसरी तरफ फ्लोरीका एक ही फोटो था। वही घुटनों पर बैठा हुआ और नो अटेंशन एक उसके लिए टैग लाइन बन चुकी थी।

करण चाहता था कि लोरी अभी कुछ और समय युएस में ही रहे क्योंकि वह यह नहीं जानता था कि इतना कुछ सुनने के बाद और जो वहां पर मजाक बनाया जा रहा है जो बेइज्जती की जा रही है। उस सब को लोरी झेल पाएगी या फिर नहीं?

और कहीं इस सब का असर उसकी प्रेगनेंसी पर ना पड़ जाए, यह सब सोचते हुए करण ने उसे कुछ दिन के लिए और रुकने के लिए कहा पर लोरी ने कहा, नहीं। मैं तुम्हारे साथ चलूंगी। मैं यह देखना चाहती हूं कि नैना मुझे नुकसान पहुंचाने के लिए मेरे साथ और क्या क्या कर सकती है वह अब और किस हद तक गिर सकती है?

वैसे भी टॉप 10 मॉडल का कंपटीशन! 4 दिनों में है उसके लिए मुझे वहां पर पहुंचना बहुत जरूरी है। अब मेरे हाथ में फिर वही और वही बचा

करण ठीक है फिर जैसे ही फ्लाइट लैंड होगी, हम सीधे घर चलेंगे पर करण यह जानता था कि फ्लाइट लैंड होने के बाद उन्हें एयरपोर्ट से बाहर तो निकलना ही पड़ेगा। वहां पर मीडिया मौजूद होगी। करण नहीं जानता था कि मीडिया और लोरी एक-दूसरे का सामना करके कैसे रिएक्ट करने वाले हैं और उससे पहले ही लोरी इंटरनेट पर अपनी खबरों को पढ़कर टूट कर बिखर गई और रोने लग गई।

इंटरनेट पर करण ने जो भी देखा वह सब कुछ उसे गुस्सा दिलाने के लिए काफी था,। वह तो बस यही सोच रहा था कि उसने नैना को पहचानने में इतनी बड़ी गलती कैसे कर दिया,। वह उसे समझ ही नहीं पाया है एक ऐसी लड़की जो उसके प्यार के लिए।

किसी भी हद तक जा सकती थी आज उसके ऊपर एक रत्ती भी दया नहीं दिखा रही है और तो और अपनी आखिरी सांस तक उसका मकसद सिर्फ और सिर्फ लोरी और करण को बर्बाद करना है।

नैना एयरपोर्ट पर पहुंची वहां पर उसका बहुत अच्छे से स्वागत हुआ। उसके लिए कुछ फैंस उसके नाम के बोर्ड के हाथ में लेकर खड़े हुए थे तो कुछ लोग उसका नाम चिल्ला चिल्ला कर बोल रहे थे तो वहीं कुछ लोग उसके लिए फूल लेकर आए हुए थे।

वैसे तो स्टार! किंग! को इस बात के लिए वक्त गर्व होना चाहिए था कि उसके एक आर्टिस्ट को इतनी पहचान इतना प्यार मिल रहा है पर करण इस सबके लिए एक रत्ती भी खुश नहीं था। वह बस यही सोच रहा था कि आखिर वह क्या करें जिससे वह नैना को कंट्रोल कर सके पर इस वक्त कविता पर भरोसा करने के अलावा उसके पास कोई भी चारा नहीं था और साथ ही साथ यह भी सोच रहा था कि क्या अब उसकी मां को कांटेक्ट करने के अलावा उसके पास कोई और ऑप्शन बचा हुआ है या फिर नहीं?

नैना की पहचान और उसकी पापुलैरिटी दिन पर दिन बढ़ती जा रही थी और उसके एटिट्यूड की वजह से उसके ऊपर लोग अब भरोसा करने लग गए थे क्योंकि उसमें हमेशा से ही अपनी लो प्रोफाइल रखी हुई है। कभी भी पापुलैरिटी पाने के लिए उसने दिखावा नहीं किया है। किसी भी तरह का तमाशा क्रिएट नहीं किया है। इसीलिए लोग उस पर भरोसा करते थे और अब नैना एक ऐसा नाम बन चुका था कि आगे वह जैसे भी काम लेगी। में वह असफल ही होगी और बिजली वाली सफलता से अच्छी ही।

होगी। जैसे ही आज करण और लोरी घर पर पहुंचे। करण ने लोरी से कोई बात नहीं की और जाकर अपने आप को कमरे में बंद कर लिया। वह कुछ लोगों से बात करना चाहता था।

लोरी। को हालांकि यह अच्छा नहीं लगा पर लोरी अभी कुछ नहीं कह सकती थी क्योंकि लॉरी अच्छे से जानती थी कि इस समय पर करण उसके और कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के बीच में फस गया है। कंपनी पूरी तरह से उसकी नहीं है। कुछ हेयर्स बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के और भी लोगों के भी हैं और अब बोलो जी को छोड़ने के लिए करण पर प्रेशर बना रहे हैं।

लोरी ने अपने असिस्टेंट को फोन किया और उससे कहा टॉप 10 मॉडल के कंपटीशन के जज कौन कौन है मुझे इसके बारे में पता करके बताओ।

असिस्टेंट लोरी अभी वैसे भी स्थिति ठीक नहीं थी थोड़े समय में अपने आप सब ठीक हो जाएगा और उस वक्त तुम्हारा करिए। अभी संभल जाएगा।

लोरी तुम्हें क्या लगता है कि हमारे पास बहुत समय बचा हुआ है तुम्हें पता है करण के ऊपर बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स इतना प्रेशर बना रहे हैं और एक आखिरी दुख तो मुझे यह खेलना ही पड़ेगा। इसके बिना अभी मुझे शांति नहीं मिलेगी और तुम क्या चाहते हो करण प्रेशर में आकर मुझे छोड़ दे और कंपनी से निकाल दें और फिर तुम क्या करोगे? जाकर वापस से रोड के किनारे अपना ठेला लगाओगे?

लोरी का असिस्टेंट? यह तो बिल्कुल भी नहीं! रहता था। कि उसकी खुद की स्थिति बुरी बहुत ज्यादा बुरी है पर वह लोरी का बुरा भी नहीं चाहता था। असिस्टेंट अच्छे से जानता था कि लोरी।

जो करना। करने जा रही है। अगर यह बात करन को किसी भी तरीके से पता चल गई तो उससे लोरी और करण। का रिश्ता बिल्कुल खत्म हो जाएगा क्योंकि किसी एक जज के साथ एक रात बिताने से कम लोरी क्या करेगी। अब उसने फिर भी लोरी को समझाते हुए कहा कि तुम संभल जाओ तुम्हारे पेट में बच्चा है, तुम प्रेग्नेंट हो।

लोरी मैं जानती हूं, मैं क्या कर रही हूं? एक ओर जहां करण अंदर कमरे में बैठे लोगों से बात कर रहा था ताकि वह अभी भी लॉरी को बचा सके। वहीं दूसरी ओर लोरी ने पहले ही उसे धोखा देने की प्लानिंग कर ली थी।

इंडस्ट्री ऐसी ही है वक्त की मौत आज है और अपने अपने स्वार्थ की मोहताज है अमेरिका से लौटने के बाद नैना ऑफिस नहीं गई थी क्योंकि आय एस एन का शूट लगातार चल रहा था। शूट !

खत्म होने के बाद जब नैना ऑफिस गई तो सीधे करण के केबिन में चली गई। वहां पर करण ने उसकी ओर देखते हुए कहा, देखो तुम्हें जो चाहिए, वह तो मैं मैं मिल चुका है अब कम से कम लोरी को शांति से जीने दो।

नैना अच्छा तुमने मुझे मौका दिया था तुमने तो अमेरिका में पूरी प्लानिंग कर रखी थी कि मुझे बर्बाद कर सको तो अब मुझ से यह उम्मीद क्यों? करण दिल ही दिल में अच्छे से जानता था कि अगर आज ही है बाद उल्टी होती और स्थितियां कुछ और होती तो मैं ना वह इंसान होती जिससे सफलता नहीं मिली है और लोरी को सफलता मिली होती तो वह है लोग हर मुमकिन कोशिश कर रहे होते की नैना आगे बढ़ना पाए।

पर नैना की बात बहुत कड़वी थी पर बिल्कुल सच भी थी तभी करण नैना से कुछ बोल नहीं पा रहा था।

उसने नैना की और देखना बंद करके मीरा की ओर देखा और। मीरा से कहा, अपना सामान बांध लो मैं तुम्हें कोई दूसरा आर्टिस्ट दे रहा हूं और। नैना को अब कोई और मैनेज करेगा।

नैना अच्छा पर तुम यह कैसे कर सकते हो?

करण तुम शायद भूल रही हो कि तुम्हारा मैनेजर रखने का हक अभी भी कंपनी का ही है और तुम्हारा मैनेजर कौन होगा, यह कंपनी तय करेगी?

करण को शायद अभी भी लग रहा था कि वह नैना को कॉन्ट्रैक्ट से बांध पाएगा।