Pyar ya Dhoka - 2 books and stories free download online pdf in Hindi

प्यार या धोका - 2

पिछले पार्ट मे आपने जाना की अंशु और उस लड़की की दोस्ती हो गई थी। पर अब जल्दी उनकी दोस्ती टूटने वाली थी क्युकि क्लास ३ अब खतम होने वाला था।।
अब फाइनल पेपर स्टार्ट हो गए थे और वो दोनों का मिलना खेलना अब ज्यादा नही था। कुछ दिनों बाद अब पेपर खत्म हुआ और दोनों क्लास ४ मे आ गए ,क्लास ४ मे बहुत से नए बच्चो का एडमिशन हुआ । अब क्लास ४ की क्लासेस स्टार्ट हो गयी थी, पहले कुछ दिन तक वो लड़की नही आई । उस लड़की की न आने से अंशु का मन भी नही लगत था। ऐसे ही कुछ दिन बीत गए फिर आचनक वो लड़की आती है उस लड़की को देख कर अंशु बहुत खुश हो गया। पर वो लड़की खुश नही थी ।
जब अंशु उसके पास बात करने गया तब वो लड़की अजीब बर्ताब कर रही थी। छोटे छोटे बातो पर गुस्सा हो जाती, रूठ जाती। अंशु को पता नही था की वो ऐसा क्यों कर रही थी । फिर कुछ दिन बाद उसके पापा आये और उस लड़की को लेकर घर चले गए। फिर कुछ दिनों तक वो लड़की नही आई और जब आती तो लंच मे घर चल जाती। अंशु को कुछ समझ नही आ रहा था की वो ऐसा क्यों कर रही है। फिर आचानक एक दिन जब उस लड़की के पापा और प्रिंसिपल बात कर रही होते है की अब वो लड़को नही पढ़े जी उस स्कूल मे . क्युकि उस लड़की की तबियत अब ज्यादा खराब हो चुका था। उसका पापा प्रिंसिपल के पास उस लड़की का नाम कटवाने आये थे। ईतना सुनते ही अंशु वह से चल गया और अकेले बैठ कर कुछ सोचन लगा । अब उस लड़की का नाम कट चुका था उस स्कूल से, अब अंशु बहुत उदास रहने लगा, न किसी से बात करता, ना किसी की साथ खेलता, न अच्छे से पढ़ता। अंशु उस लड़की की बारे मे ही पुरा दिन सोचता रहता और उदास रहता।।
पर ये कुछ दिनों की बात थी क्यों की अंशु की जिंदगी मे अब एक नया मोड आने वाला था। जिससे अंशु बिल्कुल अंजान था, अब कुछ दिन बीत चुके है और अंशु उस लड़की को काफी हद तक भुल चुका है। रोज की तरह अंशु स्कूल आता है पर आज क्लास मे एक नया चेहरा बैठा हुआ था जिसको दाखते ही अंशु को वो लड़की याद आने लगी। वो नया चेहरा भी एक लड़की का था जिसका नाम निशा था, निशा भी बेलकुल उस लड़को जैसे थी, वैसे ही हसीन आँखे, लाल लाल गाल, गुलाबी ओठ, और दूध सा गोरा रंग। अंशु उस लड़की से दोस्ती कर लेता है क्युकि अंशु उसमे उस पुरानी लड़की को देखता है। अब अंशु और निशा दोस्त थे पर जैसे ही कुछ दिन बीते वैसे उनकी दोस्ती मे एक नया मोड़ आया अब अंशु उस क्लास को छोड़ कर जाने वाला था क्युकि अंशु के पापा का दुशरा जगह ट्रांस्फर हो गया था। अंशु को ये बात अपनी मम्मी से पता चलता है। ये बात अंशु जाके निशा को बताता है और निशा भी ये बात सुन कर दुखी हो जाती है।। और अब वो पल आ चुका था जिसमे अंशु अब निशा को छोड़ कर जा रहा था..............।।