vermilion price books and stories free download online pdf in Hindi

सिंदूर कि कीमत

मिलन का बचपन से सपना था कि वह दुनिया का सबसे बड़ा मशहूर गायक बने लेकिन विधवा मां बहन पत्नी बेटी की जिम्मेदारियां उठाते उठाते मिलन को यह लगने लगा था कि मेरा मशहूर गायक बनने का सपना सपना ही रह जाएगा।

और उसका पूरा परिवार यह चाहता था कि मिलन का यह सपना किसी भी तरह पूरा होना चाहिए और पूरे परिवार में सबसे ज्यादा उसकी पत्नी डिंपल की इच्छा थी कि उसका पति दुनिया का बेहतरीन गायक बने।

विधवा मां और मिलन उसकी पत्नी के जीने के सहारा थे, मिलन की पत्नी डिंपल अपने माता-पिता की इकलौती बेटी थी, जब डिंपल की आयु दो वर्ष की थी, तो उस समय उसके पिता का देहांत हो गया था।

एक दिन शाम को अपने ऑफिस से मिलन अपनी पत्नी डिंपल को फोन करके कहता है कि "तुम खाना खा लेना मैं रात को अपने ऑफिस से घर देर से आऊंगा क्योंकि मुझे मलिक की बेटी के जन्मदिन का केक उनकी कोठी पर उनकी बेटी के जन्मदिन की पार्टी शुरू होने से पहले पहुंचना है।"

मिलन जब मलिक की बेटी के जन्मदिन की पार्टी में मलिक के घर केक लेकर पहुंचता है, तो वह वहां पार्टी में एक गायक सारे मेहमानों को पार्टी में खूबसूरत गाने गाकर सुना रहा था।

उस गाय की मधुर आवाज में गाने सुनने के बाद मिलन की भी इच्छा होती है कि मैं भी एक गाना पार्टी में गाऊं।

इसलिए वह उस गायक से एक गाना मालिक की बेटी की जन्मदिन की पार्टी में गाने की गुजारिश करता है।

तो वह गायक गाना गाने की मिलन की बहुत ज्यादा इच्छा देखकर उसे एक गाना गाने की इजाजत दे देता है।

उस पार्टी में एक बहुत बड़ा संगीतकार भी आया हुआ था। उसे मिलन की आवाज इतनी प्रसद आती है कि वह अपनी नई फिल्म में मिलन को गाना गाने का मौका दे देता है और अपना विजिटिंग कार्ड देकर मिलन से कहता है कि "कल ही सुबह मेरे स्टूडियो मेरी नई फिल्म के गाने की रिकॉर्डिंग करने पहुंच जाना क्योंकि फिर मैं एक महीने के लिए विदेश जा रहा हूं और शायद वहां से आने के बाद मेरी इच्छा ना हो तुमसे अपनी नई फिल्म में गाना गवाने की।"

"सर गायक बनने का मेरा जीवन का सबसे बड़ा सपना है, मैं इस सुनहरे मौके को कैसे खो सकता हूं, मैं कल आपसे पहले आपके स्टूडियो में पहुंच जाऊंगा।" मिलन कहता है

यह खुशखबरी अपने परिवार को सुनने के लिए मिलन घर जल्दी से जल्दी पहुंचने की कोशिश करता है और जैसे ही वह अपने घर की चौखट पर कदम रखता है, तो उसकी ससुराल से फोन आ जाता है कि उसकी सास का देहांत हो गया है यानी कि उसकी पत्नी डिंपल की मां का निधन हो गया है।

पत्नी की मां की मौत की खबर सुनकर डिंपल घर में यह खुशखबरी नहीं बताता है कि उसे एक बड़े संगीतकार की फिल्म में गाना गाने का मौका मिला है।

और घर में घुसते ही पत्नी डिंपल से कहता है कि "कल सुबह मैं तुम्हें तुम्हारी मां से मिलवाने तुम्हारे गांव लेकर जाऊंगा क्योंकि तुम्हारी मां की बहुत ज्यादा तबीयत खराब है।"

मिलन सीधे अपनी पत्नी को यह नहीं कहता कि "तुम्हारी मां की मृत्यु हो गई है।"

वह धीरे-धीरे डिंपल को घुमा फिरा कर बताता है कि "तुम्हारी मां का देहांत हो गया है।"

और कुछ दिनों के बाद वही संगीतकार मिलन के मालिक से मिलने उसकी कंपनी में आता है और मिलन को देखकर उससे कहता है "तुम गैर जिम्मेदार लापरवाह इंसान हो इसलिए इतनी मधुर आवाज के मालिक होने के बाद भी गुमनामी की जिंदगी जी रहे हो।"

"आपकी बात बिल्कुल सही है, मुझे माफ कर दीजिए लेकिन मुझे अपने ख्वाबों से ज्यादा सिंदूर की कीमत ज्यादा लगी, इसलिए मैं अपनी पत्नी को उसकी मां के अंतिम दर्शन करवाने उसके मायके ले गया था।" मिलन कहता है
"तुम अच्छी आवाज ही नहीं अच्छे दिल के भी मालिक हो इसलिए मेरी नई फिल्म के सारे गाने मैं तुमसे ही गवाऊंगा।"