Bhai mera yaad in Hindi Love Stories by Uma Sonaviya books and stories PDF | भाई मेरा यार

भाई मेरा यार

नमस्ते मित्रों
मैं आज मेरे भाई के लिए कुछ लिख रही हूं.
रक्षाबंधन हिंदू धर्मा का एक मुख्य त्यौहार है जो भाई-बहन के रिश्ते को मजबूत करने के लिए मनाया जाता है. ये त्योहार भाई बहन के प्रेम और पवित्र रिश्ते का प्रतीक है. हर भाई सबसे ज्यादा प्रेम अपनी बहन को ही करता है. इस दिन बहन अपने भाई की कलााई पर एक पवित्र धागा बांधती है. और भाई के लिए लंबा आयुष्य और अच्छा स्वास्थ्य बना रहे ऐसी भगवान से दुआ करती है. यह त्यौहार हर साल श्रावण मास में ही आता है. मेरे भैया ने मुझे बचपन से ही बहुत लाड प्यार से पाला हैं. मेंरी हर मुश्किल में मेरा साथ दिया. जब हम छोटेे थ तब का एक किस्सा अभी भी मुझेे याद है जब में ४ कक्षा में पढ़ती थीं. तब मुझेेे एक लड़के ने पत्थर मारा था तब मेरे भइया ने चप्पल से उससे बहुत पीटा था. तभी मैं अपने आप को बहुत भागयशाली मानती हूं. कि भगवान ने मुझेे इतना प्यार करने वाला भैया दिया. मेरे भैया ने मुझे इतना प्यार किया कि मां-बाप से भी बेहतर .जब भगवान ने दुनिया को बनाया होगा तब एक बात से जरूर घबराया होगा कैसे रख लूंगा ख्याल इतनी बहनों का तभी सबके खयाल के लिए भाई बनाया होगा. माना जाता है कि भाई बहनों का रिश्ता स्वर्ग सेे भी सुंदर होता है भाई बहन का प्यार किसी दुआ सेेे कम नहीं
भाई बहन एक दूसरे से कितना भी दूर हो लेकिन उसका प्यार कभी कम नहीं होता खुसनसीब होती है वह बहन जिसके सर पर भाई का हाथ होता है चाहे कुछ भी हालात हो यह रिश्ता हमेशा साथ होता है कोई भी relection perfect नहीं होता लेकिन किसी भी रिश्तो को खूबसूरत और मजबूत बनाया जा सकता है और अच्छा रिश्ता बनाने के लिए कोई भी हालात हो चाहे कितनी भी गलतफेमी आ जाए उसे दूर कर सकते हैं. कहीं बार family में मां बाप के बीच ज्यादा झगड़ा होता है तो उसका सीधा असर बच्चों पर पड़ता है हालांकि यही असर negetive भी हो सकता है और positive भी अगर मां-बाप के बीच झगड़ा ज्यादा होता है तो भाई बहन का bond काफी मजबूत हो जाता है वह इसलिए क्योंकि उस स्थिति में भाई बहन को लगता है के सिर्फ हम ही एक दूसरे का बड़ा सहारा बन सकते है भाई बहेन के रिश्तों को कभी भूल मत जाना लेकिन इस प्यारे रिश्तो को संजोए रखना . भाई जब बड़ा हो जाता है तब मां बाप से ज्यादा बहन को समझता है. भाई तो मेरे लिए 4G Internet से भी कम नहीं कभी कोई भी मुसीबत में मेरा साथ नही छोड़ता इस बात से भले ही सारी दुनिया जले लेकिन मेरे हिस्से की सारी खुशियां भगवान मेरे भाई को ही दे भाई बहन के प्यार में बस इतना ही अंतर है कि रुला कर जो मना ले वह भाई रुला कर खुद रो पड़े वो बहन.
My dear brother you always love me not like jus a brother but like a father you always protect me always keep yours love and blessings for me. Love you brother.

Rate & Review

Uma Sonaviya

Uma Sonaviya 2 years ago

Ramesh Yadav

Ramesh Yadav 2 years ago

Share