Second Love - 16 in Hindi Love Stories by Mehul Pasaya books and stories PDF | सेकंड लव - 16

सेकंड लव - 16

अरे काजल बेटा ये सही नही हे दामाद जी को बताओ और समझाओ ज़रा शादी से पहले आप दोनो नही मिल सकते चाहे कुच भी हो जाये

हा माँ वही बता रहे है उनको हम

और ये भी बताओ की अब सिर्फ बड़ो के लिये ही फ़ोन किया जायेगा और जरुरी इन्फोर्मेशन के लिये ही फ़ोन किया जायेगा और अब तुम लोग भी कॉल पे बात नही कर सकते शादी तक ठीक है बताओ दामाद जी को

आपने सुना ना मा ने क्या कहा

पता नही हमारी शादी कब होगी

हा जायेगी

और माजी से ये पुछो की शिवा भैया की शादी मे हम तो आ सकते है ना या वहा भी मना करदोगे आप

अरे डोंट वरि हम तो ऐसे ही बोल रहे थे अभी देर है जब शादी होगी तब ये सब रुकावटे आज़मानी पड़ेगी

हास माजी ने थोडा सा तो बेटर फील करवाया ओके काजल जी अब फ़ोन रखते है

हा जरुर हम वापस कॉल करेंगे

जी रखते है

हा पंडित जी अब बताये की शिवाय की शादी के लिये कौनसी तारिक सही रहेगी

हा रुको ज़रा, हमम शिवाय की शादी के लिये ठीक दो दिन बाद मतलब अगले महिने की 2 तारिक को सही रहेगा और हा आगे कोई भी शुभ तारिक नही मिली है यही एक तारिक है

जी हम यही तारिक रख लेंगे और क्या, आप सब बताओ आप सबको कोई प्रॉब्लम तो नही है ना

हमे कोई प्रॉब्लम नहीं है पर हा काजल के ससुराल वालों को फ़ोन करके बता दिजीये वरना वो फिर शिकायत करेंगे अभी ही कॉल आया था शिवा के लिये लड्की देखने गये और हम ने नही बताया तो दामाद जी नाराज़ हो गये थे

ठीक है मे उनको कॉल लगा लेता हू

इनकमिंग कॉल...

हेल्लॉ हा बोलिए

जी समदी जी हम बोल रहे है

अच्छा बोलिए

हा हम ने ये बता ने के लिये कॉल किया है की शिवाय की शादी की डेट फिक्स हो गये है और वो ठीक अगले महिने की 2 तारिक को है

जी ठीक है हम आ जायेंगे

जी जरुर

2 दिन बाद...

अरे क्या कर रहे हो रोनी सही से काम करो सब बिखेर दिया ठीक करो अब

जी काजल मैम हम ठीक कर ते है

और ये मछिन यहा किसने रखी अरे इसको इसकी जगह पर रख दो

जी मैम

अरे बेटा क्यू टेन्सन ले रही हो सब ठीक हो जायेगा

अपने आप नही होगा सब करना पडेगा

हा पर तुम खुद मत करो सर्वेनटस कर देंगे ठीक है

हा ठीक है

और हा तुम्हारे घर वाले आ रहे है और हा बारात भी लेजानी है सो उनको बताओ की बारात निकाल ने से पहले आजाये ठीक है

हा ठीक है, हेल्लॉ हा आयुष जी बारात निकाल ने से पहले आजायेगा ठीक है

हा हम पहुच जायेंगे

जी रखते है फ़ोन

हा जरुर

आहा होने वाले हस्बैंड से बात हो रही थी क्या

हा बिजु उन्ही का कॉल था

ओके उनसे तो मिलना पडेगा

हा आये तब मिल लेना

बारात टाईम...

जैसे की जाना आपने आयुष कॉल पर काजल के फैमिली पे कैसे गुस्सा होता है और बाद मे काजल की मा और काजल दोनो समझाते है आयुष को और उसके जाते ही शादी की तारिक फिक्स हो जाती है और अब शादी मे क्या स्यापा होगा जाने के लिये आगे पढते रहिये

पढ्ना जारी रखे