सेकंड लव - 22 - अंतिम भाग in Hindi Love Stories by Mehul Pasaya books and stories Free | सेकंड लव - 22 - अंतिम भाग

सेकंड लव - 22 - अंतिम भाग

ये जरुर उस बिजली का काम है मे उसे छोडूंगा नही

रुको आयुष जी मे भी आपके साथ आ रहा हू

हा चलो

वैसे फ़ोन से उस का नम्बर ट्रेस करो तो ये रहा इसे जल्दी

हा हा आयुष जी आगया आप लेफ्ट लेलो गाडी। अब राइट लेलो जल्दी फास्ट

अरे मैक्स हमारा कोई पीछा कर रहा है लगता है गाडी जल्दी चलाओ

हा मैम

अरे ये गाडी इत्नी तेज़ क्यू भगा रहे अगर काजल जी को कुच हो गया ना तो खैर नही इन लोगो की तो

आप फ़िकर मत करिये कुच नही होगा उनको

बस थोडा सा जल्दी चलाये आप

हा भाई

मैक्स गाडी उस बंगलोव के पास ले चलो

हा मैम 

अरे गाडी रुक गये अब जल्दी पकडो उन लोगो

मैक्स हरि अप कॉम ऑन जल्दी करो

हेय रुको वरना जान से मर दूंगा तुम लोगो को

अरे बेबी आखिर आ ही गये हमे ढूंडते ढूंडते चलो अब इसकी मौत भी देख लो अब

अगर उसे हाथ भी लगाया तो मे तुम्हे जान से मार दूंगा

ओहो धमकी दे रहे हो तो आओ मारो हमे चलो आओ

भाई तुम इसे लिपट लो मे काजल जी को देखता हू उनको कही चोट तो नही लगी

हा भाई। हेय मिस्स बिजली चुप चाप वहा खडी रहो वरना मर्डर हो जायेगा बता रहे है

ओह तुम मेरा मर्डर करोगे वोव

मैक्स ला मेरि गन ला जल्दी 

ये लो मैम गन

वही के वही खडे रहो और हा। आयुष वहा रहने दे उसे चू मत वरना गोली मार दूंगी मे

ओके चलाओ गोली कॉम ऑन शूट मी

मे बता रही हू पास मत आना

मेने कहा चलाओ गोली

मे सच मे चला दूंगी गोली आयुष पास मत आना मेरे

चलाओ गोली

आयुष...

आह...

तुम्हारी इतनी हिम्मत की तुमने मेरे आयुष पे गोली चलाने की जरुरत की अब देखो तुम मे तुम्हे कैसे भारी पडती हू। ये ले। जितना पिटा जाये उत्ना कम है तुझको तो

हा चलो

अरे काजल जी निशाना इस्क चूक गया है गोली हमे नही लगी है

फिर भी पुलिस को फोन करो और गिरफ्तार करवाओ

हा मे अभी कॉल करता हू वेट

कुच देर बाद...

अरे बेटा कहा थी काजल बेटी

हा वो इसकी दोस्त ने ही गिडनेप किया था

अब वो कहा है

अब वो जेल मे है उसकी जगह पर

ओके तो चलो फेरे बाकी है सिर्फ लेने चलो शादी करलो पूरी

हा माजी 

चलो आयुष जी

फेरे टाईम...

अरे सुनिये ना शिवाय जी

हा बोलो सोनम जी क्या हुआ

अरे इत्ना सब हो गया और आप पुछ रहे है की क्या हुआ

अरे पर हम तो आपको पुछ रहे है की क्या हुआ ऐसा

कुच नही बस इन लोगो को देख कर हमारी शादी की याद आ गये और कुच नही और वही बता रहे थे आपको

ओह अच्छा ओके

चलो फाइनली फेरे हो गये अब जो भी है रीति रीवाज अच्छे से करलो

कुच देर बाद...

अच्छा चलो अब हमे जाना चाहिये अब घर जाने का वक़्त हो गया है

मा आप लोग बहुत याद आओगे हमे

अरे काजल जी ये क्या कर रहे है आप आप ऐसे रो नही सक्ते सुना आपने

अरे बुधू जब लड्की अपने घर से बिदाय लेती है तब रोती है

पर मे तो इनको ले आऊंगा अगर घर वालो की याद आगये तो और क्या पर ऐसे रोना अच्छा नही अब चुप हो जाओ वरना हमारी आंखो की गंगा मैया बहने शुरु हो गये तो रुक्ने का नाम नही लेंगे

शट अप आयुष जी

हा अब तो यही वर्डस को मान देना पडेगा और क्या

आयुष जी आप भी ना

अरे मजाक कर रहा हू पगली

लोकेशन चेंज...

वैसे भाई आपने इस कहानी मे क्या नोटिस किया बताओगे ज़रा

हा मेने ये नोटिस किया वो भी अभी का मोमेंट की जिन्दगी मे पेहला प्यार हुआ या दुसरा पर भरोशे पर कायमी रहेगा हमारा प्यार तो फिर हमे दुसरे प्यार करना ही नही पडेगा 

हा सही बोले भाई

तो चलो इसी के चलते हुए अब ये कहानी यही खतम करते है

सब खुशाल मंगल है

                               द ऐंड

Rate & Review

Mehul Pasaya

Mehul Pasaya Matrubharti Verified 6 months ago

B N Dwivedi

B N Dwivedi 6 months ago