lust sex scam in Hindi Women Focused by pravin Rajput Kanhai books and stories PDF | पब्लिक टायलेट और हिडेन केमेरा

Featured Books
Share

पब्लिक टायलेट और हिडेन केमेरा

(कुछ समय पहले मैंने सोशल मीडिया पर खबर सुनी थी कि सार्वजनिक शौचालयों में महिलाओं के टॉयलेट(पेशाब) करने के वीडियो गुप्त रूप से बनाए गए और इंटरनेट पर अपलोड किए गए। तो अगर किसी के साथ ऐसा होता है तो कोई कानूनी मदद कैसे ले सकता है, उसकी जानकारी कहानी के रूप में आपके समक्ष पेश कर रहा हु।


'जल्दी तैयार हो सुमन, हमे दो बजे की बस में निकलना है।'

'हाँ, मम्मी बस अभी आई।' सुमन ने कहा।

सुमन जल्दी से तैयार होकर कमरे से बाहर आई। 'चलो मम्मी!' सुमन ने कहा।

सुमन और उसकी माँ ने रिक्शा लिया और जल्दी से बस स्टेशन पहुँचे। बस स्टेशन पर पहोंचने के थोड़ी देर बाद सुमन ने अपनी मां को कहा, 'मम्मी मुझे वॉशरूम जाना है।'

'क्या? तुम घर से जाकर नहीं आ सकती थी? हमे वैसे भी बहुत देर हो चुकी है, हमने निकलने में बहुत देर कर दी थी। अब अहमदाबाद पहुंचके जाना।'

'मम्मी मुझे जोर से लगी है।'

'हाय राम, मैं तो तुमसे बहुत परेशान हूँ। अब आसपास नजर करो कोई सार्वजनिक शौचालय हो तो जाके आओ।' सुमन की माँ ने सुमन से कहा।

सुमन ने चारों ओर देखा उसे थोड़ी ही पास एक सार्वजनिक शौचालय दिखा। 'वो रहा।' सुमन ने उंगली से इशारा करते हुए कहा।

'मैं जाके आती हूं।' कहके सुमन शौचालय की ओर बढ़ी।

शौचालय अच्छी स्थिति में नहीं था। सुमन ने अपनी नाक बंद करके अंदर गई, जल्दी से टॉयलेट करके वो वापस बाहर आ गई।

'कर आई।' मम्मी के पास वापस आकर सुमन ने कहा।

'हाँ, ठीक है चलो, हमारी बस भी आ गई है, जल्दी चलो।' कहकर दोनों बस में बैठ गए।

सुमन को अहमदाबाद आए कुछ दिन बीत चुके हैं। वो अहमदाबाद में अपने मामा के घर पे रुकी थी। एक दिन उसके पास उसकी सहेली आयुषी का फोन आया। सुमन ने फोन रिसीव किया।

'सुमन कहाँ पर है?' सामने से आवाज आई।

'मैं अहमदाबाद में हूं, बोल क्या काम था?'

'क्या तुमने दो दिन पहले सार्वजनिक शौचालय का इस्तेमाल किया था?' आयुषी ने सुमन से पूछा।

' ये तु किस तरह का सवाल पूछ रही हैं, आयुषी?'

'अरे, वो मैं तुझे बाद में बताऊंगी, पहले तु मुझे बताएं कि क्या तूने सार्वजनिक शौचालय का इस्तेमाल किया था?'

'हाँ, मैंने किया। अपने शहर के बस स्टेशन पर में गई थी, अब मुझे बता कि तुने मुझे ऐसा सवाल क्यों पूछा?'

अपना व्हाट्सएप खोल, मेंने तुझे एक लिंक भेजी है उसे चेक कर। तुझे अपने आप पता चल जाएगा।

सुमन ने मोबाइल का डाटा ऑन किया और व्हाट्सएप ओपन किया। सुमन ने आयुषी की भेजी हुए लिंक ओपन की। लिंक खोलते ही एक वीडियो सामने आया, सुमन ने लिंक पर वीडियो चलाया। उनकी आंखे खुली की खुली ही रह गई जब उसने देखा कि वीडियो किसी और चीज का नहीं बल्कि उसी की सार्वजनिक शौचालय में टॉयलेट करते हुए का है।

आयुषी के पास फिर सुमन ने फोन लगाया। सुमन फोन पर रोने लगी।

'रो मत सुमन हिम्मत रख। तेरी तरह और भी बहुत सी लड़कियों के टॉयलेट करते हुए वीडियो बनाकर इंटरनेट पर कोई अपलोड कर रहा हैं। जिस किसी ने भी ये काम किया है, मैं उसे छोडूंगी नही। क्या तुझे याद है कि यह सार्वजनिक शौचालय का वीडियो कहाँ का है?'

'हाँ मुझे याद है। पिछली बार जब मैंने सार्वजनिक शौचालय का इस्तेमाल किया था तो वो अपने ही शहर के बस स्टैंड का था। मुझे पूरा यकीन है कि यह वहीं से है। मैं वह पर नाक बंद करके बैठी थी।'

'ठीक है, फिर हम पुलिस में शिकायत दर्ज करवाएंगे।' आयुषी ने कहा।

'उससे क्या होगा? मुझे बदनाम तो किया जा चुका है’
'हाँ मैं मुझे याद है।' इतना कहकर सुमन रोने लगी।

'सुमन सबसे पहले तु रोना बंद कर। इसके लिए भी सरकार ने कानून बनाए है। क्या तु जानती हैं कि अगर कोई व्यक्ति किसी के प्राइवेट फोटो या वीडियो लेता है या किसी के प्राइवेट फोटो या वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड करता है, तो उसे धारा 66e आईटी अधिनियम के तहत तीन साल की जेल हो सकती है या दो लाख का जुर्माना या दोनों। की सजा दी जाती है।'

"अगर हम पुलिस में शिकायत करते हैं, तो वो उस ढूंढ निकलेंगे और उसे सजा देंगे। अगर उसे सजा नहीं हुई तो पता नहीं कितनी लड़कियो के इस तरह के वीडियो इंटरनेट पर अपलोड करता रहेगा।'

'तु सही कह रही है हमें एफआईआर करनी चाहिए।' सुमन ने आंसू पोछते हुए कहा। 'लेकिन आयुषी, इंटरनेट पर अपलोड की हुए मेरी वीडियो का क्या?'

'हम उस वीडियो को इंटरनेट से हटाने की अपील कर सकते हैं। वीडियो को हटाने में कुछ समय लग सकता है लेकिन वीडियो को इंटरनेट से हटाया जा सकता है। सरकार ने जल्दी से जल्दी ऐसे वीडियो हटाने की कोशिश करती हैं।'

'धन्यवाद आयुषी, मुझे हिम्मत देने के लिए। अगर तुमने मुझे ये सारे कानूनों के बारे में नहीं बताया होता, तो शायद मुझे कभी पता नहीं चलता कि सरकार इस तरह से फसी हुए लड़की की मदद भी करते है। अब मैं भी इसकी शिकायत दर्ज कर अन्य महिलाओं को जागरूक करूंगी। में लोगों को ये सारे कानूनों के बारे में बताऊंगी और उनके साथ ऐसा कुछ होता है तो वे इससे कैसे बच सकते हे उसका उपाय बताऊंगी।



- प्रविण राजपूत 'कन्हई'