Meera - 11 books and stories free download online pdf in Hindi

मीरा - 11

आदित्य के फ्लैट की तरफ देख रहा था जो उसके फ्लैट के सामने था...वहां एक लड़की की चोटी थी बाल खुले हुए थे और उसमें लवर टी की धार लगी हुई थी आदित्य की तरफ नजर आ रही थी उस लड़की ने अपना चेहरा आदित्य की तरफ नहीं रखा था। ....

आदित्य- ये क्या तुम हो एक बार पलटी तो सही...

लड़की पलटती है वह किसी से फोन पर बात कर रही थी और हंस रही थी लड़की सिंपल लुक में बहुत खूबसूरत लग रही थी आदित्य अपनी तरफ देखते हैं....

आदित्य - तुम बचपन से bhi  ज्यादा ब्यूटीफुल हो गई ho....

एक बच्चा जो अकेला रह गया था और घूम रहा था क्योंकि उसके मम्मी पापा लड़ाई में अलग अलग हो गए थे पापा अमेरिका चले गए थे और मम्मी दिल्ली में उसके साथ एक लड़की उसके पास चॉकलेट लेकर स्माइल करती है.... .

छोटी बच्ची-तुम रो क्यों रहे हो....

बच्चा कोई उत्तर नहीं देता....

छोटी बच्ची- क्या दुश्मन ने बुली किया मुझे बताओ मैं व्याख्या उदाहरण नहीं....

बच्चे की दृष्टि से वह बच्चा उससे छोटा था....

छोटी बच्ची का नाम क्या है....

बच्चा-आदित्य शर्मा...

छोटी बच्ची-मेरा नाम.... तुम मुझे एंगल बोल सकते हो....

Baccha-Angel तो तुम्हें कहीं से भी परी नहीं लगती तो बहुत खूबसूरत होती हैं....

छोटी बच्ची- अच्छा तो तुम भी कोई सुंदर नहीं हो बिल्कुल सही गु.. जैसे हो..

बच्चा -क्या कहा तुमने...

छोटा बच्चा- कुछ भी तो नहीं (आदित्य को अपनी चॉकलेट पसंद है)

आदित्य अपने हाथों से चॉकलेट लेते हैं क्योंकि उन्होंने बहुत ही प्यारा मुंह बनाया था आदित्य की चॉकलेट ही वह हस्ती हैं और आदित्य अपनी हंसी देखते थे जो कहते थे कि वह भी प्यारी चॉकलेट ले रही थीं....

छोटी बच्ची-तुम्हारा कोई दोस्त नहीं है क्या...

आदित्य- नहीं...

छोटी बच्ची -मेरे तो बहुत सारे दोस्त हैं मैं शादी उनसे दोस्ती करौ...

आदित्य -पहले मुझे तुम अपना नाम बताओ...

छोटी बच्ची-मेरा नाम सुनकर तुम हंसोगे तो नहीं...

आदित्य -क्यों नाम चुड़ैल है क्या (hanste hue)

छोटी बच्ची की चुदाई का नाम जानिए...

आदित्य - (अपने मुंह पर उंगली का रंग)-अच्छा मैं नहीं छूता अपना नाम बताया....

छोटी बच्ची-मेरा नाम मीरा मूर्ति है....

आदित्य- मीरा....(अपने मुंह पर हाथ रख कर हंसी दबते हुए)

मीरा - अगर तुमने कहा न तो में ग़ज़ल का मुँह तोड़ दूँ....

-आदित्य में नहीं है हसे रह गया नाम बहुत अच्छा है....

मीरा-. तू मेरे दोस्त बनोगे (अपना हाथ आगे बढ़ाओगे)

 आदित्य (हंसकरहाथ मिलाते हुए) हां....

मीरा- आज से तुम कभी नहीं रूगे...ओके

आदित्य -हा...

आदित्य मीरा दोनों मुस्कुराती हैं......

आदित्य का फोन बजता है और वह अपने बचपन की यादों से लेकर बाहरी किरदार स्क्रीन पर राजीव का नाम लिख रखा था...

आदित्य - बोलो क्या काम है....

राजीव-सर मैंने सभी लोगों को बोल दिया कि आपने मुझे यहां का काम बताया है और आप किसी भी काम से जा रहे हैं...

आदित्य-गुड और कुछ...

राजीव- नहीं सर...

आदित्य फोन कट कर देते हैं वापस उस लड़की की तरफ देखने वाली लड़की फोन पर बात करती-करते हंस रही थी आदित्य नीचे है क्योंकि वह लड़की भी नीचे आ गई थी....आदित्य उसके पास जाते हैं....

आदित्य - हाय ..

लड़की आदित्य की तरफ से पहचानी गई लड़की है आदित्य ने अभी ब्लैक कलर की लोअर या व्हाइट टी-शर्ट पहनी हुई है, उनकी वेल मेंटेन बॉडी है किसी को भी दिवाना बनाया जा सकता है वो लड़की भी आदित्य को देखकर कहीं खो गई....

आदित्य -हाय मैंने कहा है हाय...

लड़की- हाए...

आदित्य- क्या आप इस फ्लैट में रहते हैं...

लड़की (मुस्कुराते हुए) हा आप...

आदित्य-मैं आपके सामने वाले फ्लैट में रहता हूं...

लड़की -अच्छा (मुस्कुराओ रंग)

आदित्य - मेरा नाम आदित्य है...

लड़की- हाय मेरा नाम swati है...

लड़की का नाम सुनते ही आदित्य वापस अपने cold look mein aa jaata हैं...

आदित्य ( सीरियल चेहरा बनाकर)Excuse me...

आदित्य waha से पलट कर चला जाता है Aditya ke एक्सप्रेशन चेंज होते देखकर Swati ko कुछ समझ नहीं आता vo आदित्य को जाते हुए देख rahi thi...

Swati -यार कितना hot hai हैं.... अभी तो अच्छे से बात कर रहा था अचानक से क्या हो गया.....

इतने में पीछे से मीरा आती है और उसके कंधों पर हाथ रखती है swati डर जाती है....

Meera-hot कौन है वो...

स्वाति पलट ती है और मीरा को देखकर गहरी सांस लेती है...

Swati -meera यार तूने मुझे डरा दिया...

 Meera-स्वाति मेरी जान मेरा बच्चा तु मुझ से डर गया(स्वाति के गाल खींचते हुए)

स्वाति ( मीरा का हाथ हटाकर )- बस कर हट....

Meera-कौन था वह लड़का जिसे  tu hot बोल रही थी...

Swati- अरे हमारे सामने वाले घर में कोई लड़का आया है क्या नाम बताया उसने हां आदित्य ....

Meera आदित्य नाम सुनकर सोच में पड़ जाती है...

Meera -आदित्य आदित्य शर्मा...

स्वाति -यह तो मुझे नहीं पता वह शर्मा है कि नहीं...

Meera- अरे मैंने तुझे बताया था ना मेरा एक दोस्त था आदित्य शर्मा बचपन में जो बाद में abroad चला गया था फिर मेरा उससे कांटेक्ट नहीं हुआ कभी...

Swati -लड़का भी नीचे आया or जैसीhe  मैंने उसको अपना नाम बताया उसने कुछ नहीं कहा और वह चला गया... उसने मेरे से पूछा था कि क्या यह flat  mera है... जब मैं haa kaha तो स्माइल कर रहा था और जब मैंने उसको अपना नाम बताया तो cold फेस बना कर चला गया...

Meera -तुझे पता है vo किधर की तरफ गया है....

स्वाति -अपने रूम की तरफ...

मीरा नीचे से ही चिल्लाती है जोर-जोर से....

Meera -oye Aditya Sharma.......adhi....adhi.....

आदित्य जो अपने कमरे में जा चुका था अपना नाम चिल्लाने से परेशान हो जाता है और बालकनी में आता है और बिना देखे जोर से बोलता है... कौन है....

Meera -(आदित्य को देखकर) तुम...

आदित्य (मीरा को देखता है) तुम ...

Meera -क्या तुम आदित्य शर्मा हो....

आदित्य- हां तुम यहां क्या कर रहे हो...

स्वाति मीरा के कंधे पर हाथ रखती है...

swati -meera क्या तुम पहले मिली हो इससे...

Meera  नाम आदित्य के कान में पढ़ते ही आदित्य मीरा की तरफ देखता है उसके चेहरे की स्माइल उसकी खुशी बयां कर रही थी वह बिना कुछ सोचे समझे सीधा नीचे की तरफ भागता है और जितना जल्दी हो सके उनके पास पहुंचता है ....

आदित्य- angel....

मीरा -तु gu hai....

मीरा ने आदित्य को gu बोला पर आदित्य स्माइल कर रहा था जैसे उसे उसकी कोई बहुत प्यारी चीज मिल गई हो जैसे ही मीरा ने उसे कहा उसने मीरा को अपनी बाहों में भर लिया meera शौक हो गई... स्वाति जो दूर खड़ी थी vo दोनों देखकर एकदम दूसरी दुनिया में चली गई usne  पहली बार किसी को Meera ko ase गले लगाते देखा.... आदित्य मीरा को गले लगा कर एक गहरी सांस लेता है जैसे उसे सुकून मिल गया हो.... आदित्य ने उसे बहुत टाइट हग कर रखा था....

Meera (दबी हुई आवाज में) adhi  मुझे पता है हम बहुत टाइम बाद मिले पर क्या तुम मुझे छोड़ दोगे मुझसे सांस नहीं ली जा रही...

आदित्य जिसने अपनी आंख बंद कर रखी थी वह Meera की तरफ देखते हैं Meera  उसकी बाहों में थी और उसका चेहरा उसके चेहरे के बिल्कुल सामने था vo meera की आंखों में देखता है जिसमें उसको उसके लिए प्यार नजर आता है फिर उसके होठों की  तरफ मीरा के lips जिस पर उसने लिप लॉक लगा रखी थी एक बार आदित्य उसके चेहरे के बिल्कुल करीब आ गया...Meera shock होकर  बस उसे देख रही थी आदित्य का चेहरा भी किसी भी लड़की को अपनी तरफ आकर्षित कर सकता था तो मीरा का भी कुछ बोल पाना मुश्किल था.... आदित्य उसके चेहरे के पास आकर अपने होंठ उसके कान के पास लाता है...

आदित्य -तुम पहले से भी ज्यादा बुरी दिखती हो......

Meera यह सुनते ही आदित्य को धक्का देती है और सीधी खड़ी हो जाती हैं....

Meera (मुंह बनाते हुए) तू भी gu  jaisa ही दिखता जैसे पहले दिखता था...

आदित्य -शायद किसी ने सुबह मुझे हैंडसम बोला था (हंसते हुए)

Meera - htt .तुझे... हैंडसम.... कभी नहीं... वह तो मुझे उन दादी को लिफ्ट दिलवाने थी.. इसलिए थोड़ी,तारीफ कर दी वरना तेरी शक्ल है नहीं तारीफ लायक ....

 आदित्य- अच्छा...

स्वाति jo दोनों को काफी देर से देख रही थी...

Swati -(मीरा का हाथ पकड़कर) मुझे भी तो introduce करवा...

मीरा -आदित्य यह स्वाति है....

आदित्य- हां मिला था मैं ..मैंने सोचा कि यह तुम हो क्योंकि उन्होंने बताया था कि यह तुम्हारे फ्लैट में रहती है ... 

मीरा -अब वह फ्लैट इन्हीं का ही है हमने तो उसे बहुत पहले ही खाली कर दिया...

आदित्य -अच्छा क्या तुम्हें मेरी याद नहीं आई...

 मीरा (सोचते हुए मन में) बोल तो ऐसे रहा है जैसे अपने नंबर देकर गया होगा और मैंने कॉल नहीं किया बिना बताए चला गया और अब पूछ रहा है...

आदित्य -क्या सोच रही हो..

Meera- तुझे कौन याद करेगा...

आदित्य -मैंने तुझे बहुत मिस किया...

Meera मन ही मन में बहुत शर्म आती  है पर सामने से नॉर्मल रहती है ...

Meera- आंटी कैसी है वह भी आई है क्या...

आदित्य स्माइल कर रहा था उसका चेहरा फीका पड़ जाता है....

आदित्य-(Nam aankhon se) मॉम की डेथ हो 8 साल हो गए.... हम अमेरिका मम्मी का operation कराने ही gaye थे...

Meera  आदित्य की बात सुनकर उदास हो जाती है और उसे गले लगाकर उसकी पीठ  सह लाती है आदित्य की आंखों से आशु गिरते हैं वह अपनी मॉम की death पर भी नहीं रोया था क्योंकि उसे समझ ही नहीं आ रहा था कि वह क्या करेगा... Meera आदित्य की चेहरे को अपने दोनों हाथों में लेती है और उसके आंसू पूछती है..

Meera (गहरी सांस लेकर )-मैंने क्या कहा है तुम्हें rona नहीं है samajh Gaye...

आदित्य अपना सर हां मैं हिलाता है मीरा वापस सीधी खड़ी हो जाती है आदित्य भी नॉर्मल हो जाता है.....

Meera -मैं तुम्हें मेरे सारे दोस्तों से मिलवांगी ओके...

आदित्त्य स्माइल कर कर सर हां मैं हिलाता है .....................

PRESENT TIME, HOSPITAL.....

(Dr Aditya ke pass aate Hain Aditya ke kandhon per hath rakhte Hain.....)

Doctor -मीरा की रिपोर्ट्स आ गई है जैसा हमें लग रहा था ऐसा कुछ नहीं है......