Hold Me Close - 13 in Hindi Love Stories by Harshu books and stories PDF | Hold Me Close - 13 - are you jealous ️?

The Author
Featured Books
Share

Hold Me Close - 13 - are you jealous ️?

रेवा ने जब उसके फोन पर आया हुआ फोटो देखा तब उसके आंखो से आसू बहने लगे । तभी पीछे से अर्जुन ने आते हुए कहा –"तुम जाग रही हो !! "

जैसे ही रेवा ने अर्जुन की आवाज सुनी रेवा के जान मैं जान आई । उसने भागकर अर्जुन को गले से लगा लिया और फूट फूट कर रोने लगी।

"क्या हुआ ? तुम रो क्यों रही हो ? Is everything alright? ",अर्जुन ने रेवा से पूछा लेकिन रेवा अभी भी अर्जुन के सीने से लगकर रोए जा रही थी ।

अर्जुन: देखो तुम शांत हो जाओ पहले ...

"आप ठीक है ना ! आपको चोट आई है क्या कही!! ", रेवा ने रोते हुए ही बड़ी मासूमियत से पूछा ।

"कुछ नही हुआ है मुझे! तुम ऐसे क्यों रिएक्ट कर रही हो? ", अर्जुन ने रेवा का चेहरा अपने हाथों मैं लेते हुए कहा ।

"वो मुझे एक मैसेज आया था अभी ... unknown number से ", रेवा ने अपना फोन अर्जुन को दिखाते हुए कहा ।

अर्जुन ने वो फोटो देखा जो रेवा के फोन पर आया था । वो देखकर अर्जुन ने उसकी मुट्ठियां गुस्से से कस दी।

"ये मेरा फोटो किसीने एडिट करके तुम्हे भेजा है ... और तुम्हे ये देखकर रोना आ रहा था ! आज कल कोई भी ये बड़ी आसानी से कर लेता है ! और अभी तक ऐसा कोई पैदा नही हुआ जो अर्जुन सिंघानिया को ऐसे बांधकर रख सके । और ये नीचे क्या लिखा है...." Come outside" ऐसे किसी का भी मेसेज देखकर पैनिक मत किया करो तुम! अगर ऐसा फिर से कुछ होता है तो तुम्हे डरने की कोई जरूरत नही है । तुम्हारे पति को कोई कुछ नही करेगा और हा घर के बाहर अकेले तो बिलकुल नही जाना है तुम्हे , अर्जुन ने कहा ।

"लेकिन ये सब हो क्या रहा है ? आपकी पिक्चर मुझे भला क्यों भेजेगा ? वो भी ऐसे एडिट करके ? आप कुछ छुपा रहे है क्या मुझ से? वो आदमी जिसको आपने मारा था वो कौन था ? और उसके बाद कोई पुलिस केस कैसे नही हुई? ", रेवा ने पूछा ।

" वो छोड़ो तुम ... इस सबके लिए तुम छोटी हो अभी..लेकिन एक बात याद रखना मेरे साथ ही रहना हमेशा....Atlest तब तक जब तक मैं उस अजीत का पता नहीं लगा लेता । ", अर्जुन की इस बात पर रेवा ने अपना सिर हा मैं हिला दिया ।

"ये तुम्हारे साथ ऐसी हरकत जिसने भी की है ना उसकी जान ले लूंगा मैं.. मुझसे बदला लेने के लिए तुम्हे कोई हार्म नही कर सकता",अर्जुन धीमी आवाज मैं बड़बड़ाया ।

"क्या ? कुछ कहा आपने ?", रेवा ने पूछा ।

"वो नम्बर दे दो मुझे! में पता लगा लूंगा की ऐसा घटिया मजाक किसने किया और ....अर्जुन इसके आगे कुछ बोलता तभी रेवा ने उसकी बात काटते हुए कहा –" वैसे आप गए कहा थे इतनी रात को ? पता है में कितनी डर गई थी !! खुद मुझे अकेला छोड़ कर जाते है और फिर बोलते है कि तुम मेरे सिवा अकेली कही नही जाओगी..मैं तुम्हे प्रोटेक्ट करूंगा ...ये ऐसे प्रोटेक्ट करेंगे आप मुझे ?? मुझे अकेला छोड़कर ? इससे बेहेतर में ही खुद को प्रोटेक्ट करलूंगी", रेवा की इस बात को सुनकर अर्जुन ने रेवा को घेरते हुए कहा–"तो तुम्हे लगता है में तुम्हे प्रोटेक्ट करने मैं कम पड़ रहा हूं ?? अर्जुन ने पूछा ।

"हां और इस मैं कोई डाउट नही है...आप lack कर रहे है मुझे प्रोटेक्ट करने मैं...अगर कल आप ऐसे ही मुझे अकेले छोड़कर कही चले गए और अजीत मुझे उठाकर ले गया तो आप क्या करेंगे ? आपने प्रोमिस किया था ना की मैं आपकी जिम्मेदारी हूं...", रेवा ने सब एक ही सांस में बोल दिया ।

रेवा की बाते सुनकर अर्जुन सोचने के लिए मजबूर हो गया ।
"क्या मैं सच मैं इसे प्रोटेक्ट नही कर पा रहा ! इतना careless हूं मैं!!! " अर्जुन ने मन मैं ही सोचा ।

"कहा खो गए आप ??", रेवा ने अपना हाथ अर्जुन के सामने वेव करते हुए कहा ।

"कुछ नही सो जाते है अब...",अर्जुन ने कहा ।

"रुकिए...आपका कोई बाहर चक्कर तो नही चल रहा ना ? आप इतनी रात को कहा गए थे ?", रेवा ने अपनी आंखे छोटी करते हुए पूछा।

अर्जुन: "तुम्हे जलन हो रही है क्या ? ये ड्रामा करते करते तुम रियल वाइफ की तरह बिहेव कर रही हो !! और....."

"Ok fine करिए कुछ भी! मेरी ही गलती थी जो मैंने पूछा। वैसे भी हमारा कॉन्ट्रैक्ट मैरेज है ना। आप एक क्या २/२ लड़कियों के साथ चक्कर रखिए । I don't care at all !
और हा अगली बार अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने ...oh sorry girlfriend नही गर्लफ्रेंड्स से मिलने जाएंगे तो मुझे बताकर जाना । मैं टेंशन मैं आ जाती हूं ", रेवा ने गुस्से से कहा ।