हुआंग चाउ की बेटी - 1

हुआंग चाउ की बेटी

1 - "डायमंड फ्रेड"

पब्लिक हाउस के एक सलून बार में, जो चाइनाटाउन की आधिकारिक सीमा से कुछ ही दूरी पर स्थित था, एक कोने में एक छोटे से टेबल पर दो लोग बैठे थे और गंभीर चर्चा में व्यस्त थे। दोनों में कड़ा विरोधाभास था। एक गैंडे के आकार का बदमाश दीखता आदमी था, जो कपड़ों के और शरीर के लिहाज़ से भी गन्दा लग रहा था, कभी रिंग से उसका पाला पड़ चुका था, इसका प्रमाण उसकी टूटी नाक दे रही थी। उसका साथी सजा-संवरा था जो एक सफल ईस्ट एंड वाले यहूदी की निशानी थी; वह करीने से शेव किया हुआ था, सामान्य कद काठी का था और तौर- तरीकों से लेकर बोलने में सतर्क था।

दो व्हिस्की और सोडा मंगाने और उसका भुगतान कर चुके, यहूदी ने, अपना गिलास ऊपर उठाते हुए अपने साथी का सर हिलाकर अभिवादन किया और एक सिप ली। उसके पहने हीरे की चमक दूसरों को बरबस अपनी और खींचने वाली थी।

"चियर्स, फ्रेडी!" मोटे-से आदमी ने बोला। "कोई खबर?"

"कुछ ख़ास नहीं," फ्रेडी के रूप में पुकारे जाने वाले शख्स ने जवाब दिया, अपना ग्लास टेबल पर रखते हुए उसने अपनी जेब में लाये पैकेट से एक सिगरेट निकाली।

"मुझे विश्वास नहीं।" संदेह भरी नज़रों से घूरते हुए दूसरे ने कहा, "तुम काफी लम्बे अरसे से चुप बैठे हो, और तुम्हारे साथ ऐसा तब होता है जब तुम कुछ बड़ा करना चाहते हो।"

"हूँ!" उसके साथी ने अपना सिगरेट जलाते हुए कहा, "तुम कहना क्या चाहते हो?"

"मैं तुम पर नज़र रखे हुए हूँ फ्रेडी," उसने जवाब दिया; "मैं तुम पर नज़र रखे हुए हूँ!"

"अच्छा?" बुदबुदाते हुए दूसरे ने कहा, "पर बताओ तो सही तुम्हारा मतलब क्या है?"

उसके सौम्य तरीके में एक धमकी सी छिपी हुई थी और फ्रेडी कोहेन, अपने साथियों में "डायमंड फ्रेड" के रूप में जाना जाने वाला कई मायने में डरावने व्यक्तित्व का स्वामी था। ठग के अपने चुने पेशे को सबकुछ दिया था, उच्च कोटि के अमेरिकी प्रशिक्षण से लेकर जेहनी चपलता और चतुराई जो उसकी नस्ल का हिस्सा थी और स्कॉटलैंड यार्ड को व्यस्त रखने वाली अपनी बिरादरी में वह एक साथ ईर्ष्या का भी और प्रशंसा का भी पात्र था।

जिम पोलैंड, जो शारीरिक रूप से ज्यादा खतरनाक किरदार था, उसकी टक्कर का तो नहीं था पर वह इतना भी बेअकल नहीं था इसीलिए कोहेन भले मुस्कुरा रहा था पर थोड़ी व्यग्रता के साथ उसके जवाब का इंतज़ार कर रहा था।

"मेरा मतलब था," पोलैंड गुर्राया "कि तुम लाला हुआंग के साथ बेवजह अपना समय ज़ाया नहीं कर रहे।"

"शायद नहीं," कोहेन ने हलके से जवाब दिया। "वह एक खूबसूरत लड़की है, पर इसमें तुम्हारा क्या काम है?"

"कोई काम नहीं। मुझे उसकी खूबसूरती में कोई दिलचस्पी नहीं, न ही तुम्हें है।"

कोहेन ने कंधे उचकाए और फिर अपना गिलास उठाया।

"बोलो भी," पोलैंड टेबल पर झुकते हुए "मैं जानता हूँ, और मैं इसमें शामिल होना चाहता हूँ। तुमने सुना मुझे? मैं इसमें शामिल होना चाहता हूँ। यह मुश्किल समय है और हमें साथ रहना होगा।"

"ओह," कोहेन ने कहा, "यह कोई खेल है, है न?"

"खेल तो है। तुम खता नहीं खाओगे यदि तुम मुझे शामिल कर लो, पचास-पचास पर भी, क्योंकि शायद मैं बूढ़े हुआंग के बारे में वह बातें भी जानता हो सकता हूँ जो तुम नहीं जानते।"

यहूदी की भाव-भंगिमा हलकी बदली, और इसीके साथ उसने नज़र बचाकर बोलने वाले की तरफ देखा। फिर:

"कोई वादा नहीं करता," उसने कहा, "पर तुम क्या जानते हो?"

पोलैंड टेबल पर थोडा और झुका।

"चाइनाटाउन की फिर निगरानी हो रही है। मैंने आज सुबह ही सुना कि रेड केरी यहाँ आया था।"

कोहेन हंसा।

"रेड केरी!", उसने दोहराया। "रेड केरी का मेरे छोटे से जीवन में कोई महत्व नहीं है, जिम।"

"नहीं है?" जिम ने गुर्राते हुए कहा, "जिस तरह कुछ समय पहले उसने नशेड़ियों की भीड़ को साफ़ किया, उसने दिखा दिया कि वह कोई बेवक़ूफ़ नहीं है। नहीं?"

यहूदी ने चेहरे पर ऐसे भाव बनाए जैसे वह विषय को खारिज करना चाहता हो।

"ठीक है," पोलैंड ने अपनी बात जारी रखी। "तुम्हें जो लगता है, लगे। पर गश्त दोगुनी हो गयी है, मैं समझता हूँ तुम्हें इसका पता है। और यह पक्का है कि उस चिंक की मौत के बाद से ही विशेष अधिकारी लगे हुए हैं।"

कोहेन असहजता से हिला और उसे छिपे अंदाज़ से देखता रहा।

"मेरा मतलब समझो," अगले ने अपनी बात जारी रखी। "चाइनाटाउन इस समय ठीक नहीं है।"

उसने एक झटके में अपनी विस्की समाप्त की, और खड़े होते हुए, काउंटर की दिशा में तेजी से गया। वह दो और गिलासों के साथ लौटा। फिर, अपनी जगह पर बैठने के बाद फिर से झुका।

"एक बात है, जो मुझे लगता है, तुम नहीं जानते," उसने कोहेन के कान में कहा। "चिंक को लाइमहाउस रीच से निकाले जाने के एक सप्ताह पहले ही मैंने लाला हुआंग से बात करते देखा था। मुझे डर है, डायमंड, कि, अपनी सारी चालाकियों के बावजूद, उसी अंजाम तक न पहुँचो।"

"यह डरावनी बातें मुझसे न करो, जिम," कोहेन ने असहज होते हुए कहा, "तुम आखिर कहना क्या चाहते हो?"

"ठीक है," पोलैंड ने संजीदगी से व्हिस्की पीने के साथ जवाब दिया। "वह चिंक नदी में कैसे गया?"

"मुझे क्या पता?"

"और वह मरा कैसे? डूबने से तो नहीं, हालांकि वह काफी फूल गया था।"

"यहाँ देखो, दोस्त," कोहेन ने कहा, "मैं जितना तुम लाइमहाउस को जानते हो उससे बेहतर मैं फ्रिस्को को जानता हूँ। तुम्हें बता दूं कि तुम्हारा यह छोटा सा चाइनाटाउन मेरे लिए हलवा है। तुम मुझे चीनी मौत के जाल, गुप्त विष और बकवास से डराना चाहते हो। प्यारे, तुम अपनी कला को ज़ाया कर रहे हो। अगर तुमने चिंक को लाला के साथ देखा भी हो और मुझे इसमें संदेह है।।। न, न, उतेजित होने की ज़रुरत नहीं है, मैं सीधी बात बोल रहा हूँ - मुझे चिंक की मौत और बूढ़े हुआंग चाउ के बीच कोई सम्बन्ध नहीं नज़र आता।"

"नहीं आता?" पोलैंड भरभराई आवाज़ में गुर्राया उसने उसकी कलाई कसकर पकड़ी और इतना झुका कि उसका बदसूरत चेहरा यहूदी के पीले चेहरे के बहुत करीब चला गया। "मैं महीनों से बूढ़े हुआंग पर नज़र रखे हुए हूँ। अब मैं तुम्हें एक और बात बताता हूँ। चिंक की मौत के बाद रेड कैर्री भी उस पर नज़र रखे हुए है।"

"देखो!" कोहेन ने झटके से अपनी बांह छुड़ाई। "तुम मुझे इस बकवास से डरा नहीं सकते। तुम निशाने पर हो, और तुम यह बात जानते हो। चीफ इंस्पेक्टर केरी तुम्हारा दुस्वप्न है। लेकिन अभी अगर वह यहाँ से गुज़रे तो मैं उसे ड्रिंक ऑफर कर सकता हूँ। मैं ऑफर करूंगा नहीं पर कर सकता हूँ। तुमने गलत सिरा पकड़ा है, जिम। लाला मुझे पसंद करती है, और भले वह ज्यादा नहीं ओलती पर जो कहती है, साफ़ कहती है। मैं आज रात ही उससे चिंक के बारे में पूछूंगा।"

"तो तुम मूर्खता ही करोगे।"

"क्या मतलब?"

"मैंने कहा तो तुम मूर्खता करोगे। मैं तुम्हें चेतावनी दे रहा हूँ, फ्रेडी। चिंक कई सारे हैं। सभी लड़के जानते हैं कि बूढ़े हुआंग चाउ के पास फर्श में दबी सोने की खदान है। पर वह सभी लड़के वह नहीं जानते जो मैं जानता हूँ, और मुझे लगता है, तुम भी नहीं जानते।"

"क्या?"

जिम पोलैंड तत्परता से आगे झुका, फिर कोहेन की कलाई थामी और बोला,

"हुआंग चाउ चीनियों में बड़ी ताकतवर मछली है।" वह उस पर सावधान नज़र डालते हुए फुसफुसाया। "वह बहुत सयाना है और उसके पास अकूत पैसा है। उसके जैसे व्यक्ति से निबटना आसान नहीं है। मैं तुम्हें नहीं बताऊंगा जो मैं नहीं जानता। पर फिफ्टी-फिफ्टी की बात करो और हो सकता है तुम इस झमेले से जीवित निकल आओ।"

डायमंड फ्रेड के माथे पर पसीने की बूँदें चलचला आईं और उसने अपनी जेब से नीला सिल्क रुमाल निकला और अपना माथा पोंछा।

"तुम इन बातों के पुराने खिलाड़ी हो, जिम," उसने कहा, "इसका मतलब मैं यह निकालता हूँ कि अगर मैंने तुम्हारी बात नहीं मानी तो तुम मेरा खेल बिगाडोगे।"

जिम पोलैंड झुका और उसने उसकी कलाइयाँ कसकर पकड़ीं। तब,

"सुनो," उसने कर्कश आवाज़ में कहा। "यह तुम्हारा अकेले का खेल नहीं है। तुमने बस रास्ता दूसरा अपनाया है। तुम्हारा दांव शुरू से कमज़ोर है। मेरी ओजना धीमी लेकिन सुरक्षित है। तुम्हारे साथ क्या कोई और भी है?"

"नहीं।"

"तो हम हाथ मिला लेते हैं। अब मैं तुम्हें बता दूं। मैं पीछे हटने वाला था।"

"क्या? तुम मैदान छोड़ रहे थे?"

"हाँ।"

"क्यों?"

"क्योंकि मामला बहुत आसान दिख रहा था, और ऐसी बातों में हमेशा मैं जोखिम सूंघ लेता हूँ।"

फ्रेडी कोहेन ने अपना व्हिस्की का गिलास पूरा किया।

"रुको, मैं और ड्रिंक्स लता हूँ," उसने कहा।

इस तरह, तब, उबाऊ पतझड़ की रात के दस बजे, वापिंग पब्लिक हाउस के उस भीड़ भरे बार में उन दो लोगों ने जो चर्चा की उसने यहूदी-अमरीकी बदमाश कोहेन के अगले अंजाम का नतीजा तय किया, जिसके बारे में मैं अब आगे बताऊँगा।

***

***