Ek ShaYraana Safar... by Aksha in Hindi Short Stories PDF

एक शायराना सफ़र

by Aksha in Hindi Short Stories

नजरो से नजर मिला कर जान ना सके,हाथ से हाथ मिलाकर नियति अपना ना सके,लफ्ज़ से लफ्ज़ प्यासे सागर का इरादा ना समझ सके,जिस्म से जिस्म का ये इत्तेफाक कभी दोहरा ना सके,रूह से रूह जोड़ कर भी खुदको ...Read More