The College Girls - 6 in Hindi Women Focused by Kiran books and stories PDF | द कॉलेज गर्ल्स - (भाग 6) मिस्टर कोल्ड और मिस जूनियर

द कॉलेज गर्ल्स - (भाग 6) मिस्टर कोल्ड और मिस जूनियर

एनडी कॉलेज
दिल्ली

अद्वैत एक तरफ़ खड़ा था और सामने ही पंछी खड़ी थी और काव्या थोड़े साइड में थी ।

अद्वैत - तो तुमने मुझ से झूठ बोला ।

पंछी समझ चुकी थी कि अब झूठ बोल कर कोई फायदा नहीं तो उसने कहा - हां सर ।

अद्वैत - मैं जान सकता हूं क्यूं ?

पंछी - क्योंकि मुझे लगा कि अगर मैं आपको अपनी हॉबी डांसिंग या सिंगिंग बताऊंगी तो आप गाना गाने बोलते या डांस करने बोलते ।

अद्वैत - हां तो इसमें क्या प्रॉब्लम है ?

पंछी - सर आप प्रॉब्लम की बात कर रहे हैं तो सुनिए मैं बहुत बेसुरा गाना गाती हूं .......

अद्वैत - आवाज़ तो बेसुरी नहीं है ।

पंछी - मेरी आवाज़ गाते वक्त बदल जाती है ना ।

अद्वैत - और डांस करने में क्या प्रॉब्लम है ?

पंछी - सर मुझे डांस के नाम पर बस बाराती वाला नागिन डांस आता है और वही मैं हर जगह अप्लाई करती हूं ।

अद्वैत को उसकी बातें सुन कर बहुत हंसी आ रही थी पर उसने अपनी हंसी रोकते हुए - पर तुमने अपनी हॉबी कुकिंग ही क्यों बताई। ।

पंछी - क्योंकि उसे करके नहीं दिखाया जा सकता ।

अद्वैत - काफ़ी इंटेलिजेंट लगती हो ।

पंछी - है ना सर मैं भी अपने घर में सबको बोलती हूं कि मैं बहुत इंटेलिजेंट हूं पर कोई मानता ही नहीं ।

अब अद्वैत अपनी हंसी नहीं रोक पाता और जोर जोर से हंसने लगता है ।

पंछी - सर आप हंस क्यों रहे हैं ?

अद्वैत - वो एक जोक याद आ गया था ।

काव्या बस खड़े खड़े उन दोनों को देख रही थी ।

पंछी - ओ मुझे लगा आप मुझ पर हंस रहे हैं ।

अद्वैत मुस्कुराते हुए - नहीं नहीं मैं तुम पर क्यों हसूंगा तुम तो इतनी इंटेलिजेंट हो ।
वैसे मैं अद्वैत ।

पंछी - आपको तो हमारा नाम पता ही है ।

अद्वैत - हमारा !

पंछी - मेरा और काव्या का ।

अद्वैत - ओ ,चलो मैं तुम लोगों को क्लास दिखा देता हूं । मेरे पीछे आओ ।

अद्वैत आगे आगे और दोनों लड़कियां उनके पीछे पीछे ।

कॉलेज का दूसरा हिस्सा

मेघा और सोना अहिल के ग्रुप के सामने खड़ी थी ।

उसके ग्रुप में अहिल के अलावा दो लड़कियां और दो लड़के और थे ।

अहिल सोना से उसका नाम पूछता है ।
सोना अपना इंट्रोडक्शन देती है और अपनी हॉबी पेंटिंग और स्केचिंग बताती है ।

अहिल - तो क्या तुम अभी किसी का भी स्केच बना सकती हो ।

सोना - हां सर ।

अहिल इधर उधर देखती हुए - ठीक है इसका ( मेघा ) स्केच बनाओ ।

मेघा उसे घूर कर देखती है।

अहिल मेघा को बोलता है अब तुम अपना इंट्रोडक्शन दो ।

मेघा - मेरा नाम मेघा है और मैं आर्ट्स डिपार्टमेंट से हूं ।

अहिल - हॉबीज क्या है तुम्हारी ।

मेघा - किताबें पढ़ना ।

अहिल - हम्म् इंटरेस्टिंग , अच्छा बताओ रंगभूमि किसने लिखी ।

मेघा पूरे कॉन्फिडेंस से - ध्यानचंद ने ।

अहिल उसे हैरानी से देखता है ।

तभी नकुल (अहिल का दोस्त ) - पर वो तो हॉकी प्लेयर था न ।

उसके बगल वाली लड़की निहारिका - तुझे कैसे पता ।

नकुल - अरे वो गाना आया था न विक्की कौशल का ध्यानचंद वाला तो सुनने के बाद गूगल किया था ।

निहारिका - ओ तभी मैं सोच रही थी कि तूझे कैसे पता ।

अहिल बात संभालते हुए - हां वो हॉकी प्लेयर तो था ही पर उसने किताबें भी लिखी है ।

नकुल - ओह , लिखा होगा मुझे क्या करना है ।

अहिल मेघा से - अच्छा बताओ महाभोज किसने लिखी ।

मेघा - मन्नू भंडारी ने ।

लड़का - अरे ये तो ईजी था नाम से ही तो पता चल रहा है , भंडारी , भोज ।😏😏

अहिल सोचता है ये किन पागलों के बीच फंस गया मैं😥😥।

अहिल सोना से - तुम्हारा हो गया ?

सोना - हां ।

अहिल - दिखाओ ।

सोना उसे स्केच दिखाती है ।

स्केच देखने के बाद अहिल ज़ोर ज़ोर से हंसने लगता है मेघा उसे हैरानी से देखती है तो अहिल उसको स्केच दिखाता है ।

स्केच देखने के बाद वो थोड़े गुस्से से सोना की ओर देखती है , क्योंकि उसने मेघा की वो वाली स्केच बनाई थी जिसमे वो अहिल को आंखे दिखा रही थी ।

सोना मासूमियत से - मैं जब तुम्हारा स्केच बना रही थी तो तुम ऐसे ही दिख रही थी ।

ग्रुप के बाकी लोग - हमें भी दिखाओ अहिल क्या है जिसे देख के तू इतना हंस रहा है ।

मेघा अहिल को आंखो ही आंखों में बोलती है अगर दिखाया न तो देख लेना ।

पर इससे पहले कि अहिल कुछ कर पाता उन लोगों ने उससे स्केच छीन लिया और उसे देखने के बाद ज़ोर ज़ोर से हंसने लगे ।

तभी लक्ष्य ( अहिल का दोस्त ) - वैसे मिस मेघा एक बात बताओ तुम इतने गुस्से में क्यों लग रही हो ।

सुहानी( लक्ष्य की गर्लफ्रेंड ) - और किस पर गुस्सा हो रही हो ।

मेघा नकली हंसी हंसते हुए - ऐसी कोई बात नहीं है, वो क्या है ना मैं हमेशा ऐसी शक्लें बनाती रहती हूं बचपन की आदत है ।

अहिल धीरे से - ये आदत कब लगी इसे मुझे तो नहीं पता चला ।

तभी बेल बज गई।

अहिल - अब बेल बज गई है तो तुम लोग अपने क्लास जा सकती हो ।
इतना बोलकर वो कर वो अपने क्लास की तरफ़ जाने लगता है ।

मेघा उसे आवाज देती है - अहिल सर आपसे एक हेल्प चाहिए थी ।

अहिल जो मेघा से अपने लिए सर सुन कर पहले से ही फूल कर गुब्बारा हो गया था बोला - हां हां बोलो क्या हेल्प चाहिए ।

मेघा - वो हमलोगों को यहां का रास्ता नहीं पता है तो क्या आप हमें हमारा क्लास दिखा देंगे ।

अहिल - ज़रूर क्यों नहीं ।

अहिल मेघा और सोना को लेकर उनकी क्लास की तरफ़ चला जाता है ।

जब वो लोग क्लास के पास पहुंचे तो दूसरी तरफ़ से अद्वैत काव्या और पंछी को लेकर आता हुआ दिखाई देता है ।

सोना और पंछी एक दूसरे को देखती है और दोनों ही चिढ़कर दूसरे तरफ़ देखने लगी ।

अद्वैत और अहिल भी एक दूसरे की तरफ़ देखते हैं । अद्वैत कोई रिएक्शन नहीं देता पर अहिल बड़बड़ाने लगता है ।

अहिल अद्वैत को देखकर - ये मिस्टर कोल्ड लड़कियों के साथ, मुझे अपनी आंखों पर बिलीव नहीं हो रहा😳😳। कहीं मैं सपना तो नहीं देख रहा । चेक करता हूं ।

अपने हाथ में चींटी काटता है - आह दर्द हुआ मतलब ये सच है ।

वही उसकी आवाज सुनकर मेघा पूछती है - क्या हुआ खिच.. अहिल सर ।

अहिल - कुछ नहीं ।

मेघा - आप चिल्लाए क्यूं फिर ।

अहिल - तुम्हें लेट हो रहा होगा ना क्लास के लिए जाओ अंदर जाओ ।

अहिल अद्वैत को एक बार देखता है और चला जाता है ।

अद्वैत - सो मिस जूनियर ये रहा तुम्हारा क्लास ।

पंछी - सर आप मेरा नाम भूल गए क्या ?

अद्वैत - नहीं तो।

पंछी - फिर आप मुझे मिस जूनियर क्यों बुला रहे हैं ।

अद्वैत - दिस नेम सूट्स यू ।

इतना कहकर वो चला गया ।

पंछी - " दिस नेम सूट्स यू " अजीब है ऐसे नाम कौन रखता है 🤷🤷।

काव्या - उनको बाद में कोस लेना अभी क्लास चलो ।

पंछी - ठीक है।

दोनों लड़कियां क्लास के अंदर जाती हैं ।

दोनों जाकर एक बेंच में बैठ गई । पर पंछी ने अपने बगल बेंच को नहीं देखा जिसमें मेघा और सोना बैठी हुई थी ।

सोना ने भी पंछी को नहीं देखा था ।

तभी क्लास में टीचर का प्रवेश हुआ ।

और पंछी तो बस उन्हें देखते ही रह गई😳😳 ।

आपको क्या लगता है कैसे होंगे टीचर, जिन्हें पंछी देखती रह गई ?

आगे क्या होगा कहानी में जानने के लिए पढ़िए अगला भाग ।

धन्यवाद !


Rate & Review

Be the first to write a Review!